मोदी सरकार ने वेंटिलेटर दिए, यहां किराए पर चला दिए:जयपुर में गृहमंत्री अमित शाह बोले- भरतपुर में निजी अस्पताल में मिले वेंटिलेटर

भरतपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जयपुर के जेईसीसी में भाजपा जनप्रतिनिधि सम्मेलन को संबोधित करते गृहमंत्री अमित शाह। - Dainik Bhaskar
जयपुर के जेईसीसी में भाजपा जनप्रतिनिधि सम्मेलन को संबोधित करते गृहमंत्री अमित शाह।

केंद्र सरकार की ओर राज्य को दिए गए वेंटिलेटर के उपयोग नहीं करने पर गृहमंत्री अमित शाह ने राज्य सरकार पर निशाना साधा। ये वेंटिलेटर कोरोना की लहर के दौरान पीएम केयर फंड से राज्य सरकार को दिए गए थे, लेकिन भरतपुर में उन्हें प्राइवेट अस्पताल को किराए पर दे दिया गया।

जयपुर में रविवार को भाजपा के जनप्रतिनिधि सम्मेलन में कहा कि कोरोना काल में मोदी सरकार ने ढेर सारे वेंटिलेटर भेजे। ऑक्सीजन प्लांट भेजे। 15 सौ वेंटिलेटर जो भारत सरकार ने राज्य को भेजे थे। भरतपुर में तो सरकार ने वेंटिलेटर निजी अस्पताल को किराए पर दे दिए। अस्पतालों को ऑक्सीजन प्लांट भेजे वो शुरू नहीं किए।

क्या था पूरा मामला

7 महीने पहले कोरोना काल में मोदी सरकार ने सभी राज्यों के वेंटिलेटर दिए थे जिसमें से 20 वेंटिलेटर भरतपुर के सरकारी आरबीएम अस्पताल को दिए गए, लेकिन आरबीएम अस्पताल में वेंटिलेटर को चलाने के ऑक्सीजन पॉइंट नहीं थे, यही बात कहकर 10 वेंटिलेटर को एक निजी अस्पताल को किराए पर दे दिया। राज्य में सरकारी अस्पतालों में केंद्र से मिले वेंटिलेटर पैक ही रखे रहे, उनका उपयोग तक नहीं किया गया।

इलाज के बहाने पैसा कमाने का फंडा:जिला आरबीएम अस्प्ताल ने पीएम फंड से आये वेंटिलेटर दिए किराए पर, उन्हीं से प्राइवेट अस्पताल कर रहा कमाई