पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

स्वागत:विदेशी मूल के संतो और भक्तों ने रामधुनी व कृष्ण के भजन गाते हुए निकाली यात्रा, लोगों ने पुष्प वर्षा से किया स्वागत

भुसावर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
भुसावर. कस्बे से भजन गाते हुए निकलती यात्रा। - Dainik Bhaskar
भुसावर. कस्बे से भजन गाते हुए निकलती यात्रा।

गुजरात बड़ोदरा स्थित इस्कॉन मंदिर से आकर विदेशी मूल के सन्तों ने भक्तजनों को साथ लेकर भुसावर के मुख्य मार्गों से होकर राम व कृष्ण भजन गाते यात्रा निकाली। जिसका लोगों ने पुष्प वर्षा व करतल ध्वनि से स्वागत किया।

जानकारी के अनुसार देश सहित विश्व में कोरोना महामारी संक्रमण से निजात दिलाने एवं विश्व में शांति कायम करने की भावना को लेकर गुजरात के बड़ोदरा शहर स्थित इस्कॉन मन्दिर विदेशी मूल के संत देश के कोने कोने में जाकर राम व कृष्ण भजनों के माध्यम से लोगों में ईश्वर में आस्था एवं भारतीय सभ्यता संस्कृति के प्रति जागरूक करने एवं भाईचारा बढ़ाने के साथ कोरोना महामारी संक्रमण से बचाव को लेकर जगह-जगह जाकर रामधुनी व कृष्णा भजन वाद्य यंत्रों के साथ गा कर यात्रा निकाल रहे है।

इस यात्रा के भुसावर में पहुंचने पर लोगों ने पुष्प वर्षा कर ताली बजाकर स्वागत किया। इस्कॉन मंदिर बडोदरा के भक्त व भुसावर निवासी विष्णु कुमार गर्ग ने बताया वे इस्कॉन मंदिर बडोदरा के विदेशी मूल के सन्तों की सेवा में निकले है। यात्रा के माध्यम से लोगों में धर्म के प्रति आस्था बढ़ाने का बहुत बड़ा जरिया है।

वही विदेशी लोगो को देसी वेशभूषा पहने ओर राम कृष्ण भजन उनकी जुबान से सुनकर अनायास ही हर जन उनकी ओर खिंच सा जाता है,जो दिनभर लोगों में चर्चा रही। ये सभी सन्त व भक्त भारतीय संस्कृति व हिन्दू धर्म के प्रति कितने आस्थावान हैं और देश के लोगो को भाईचारे का संदेश दे रहे है। हमे इन विदेशी मूल के लोगों से शिक्षा लेनी चाहिए की हमारी संस्कृति एवं धर्म संपूर्ण विश्व में सर्वश्रेष्ठ है। वही इसके साथ वे कोरोना महामारी के प्रति भी लोगो को जागरूक कर रहे है।

खबरें और भी हैं...