पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

खातेदारों से जल्द लेंगे विकल्प पत्र:सरकुलर रोड पर सेक्टर-10 स्कीम में बनेंगे आरबीएम अस्पताल के लिए स्टाफ क्वाटर्स, करीब एक दशक से अटकी है योजना

भरतपुर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हिमांशु गुप्ता, चेयरमैन, यूआईटी - Dainik Bhaskar
हिमांशु गुप्ता, चेयरमैन, यूआईटी

एक दशक से भी ज्यादा समय से अटकी सरकुलर रोड स्थित सेक्टर-10 स्कीम अब क्लियर होने की स्थिति में है। यूआईटी ने अब यहां 72000 वर्ग मीटर जमीन में से 25000 वर्ग मीटर जमीन आरबीएम अस्पताल को उपलब्ध कराने का फैसला किया है। ताकि स्टाफ क्वार्टर्स बनाए जा सकें। कुछ विकसित जमीन खातेदारों को बतौर मुआवजा उपलब्ध कराई जाएगी।

इसके लिए उनसे विकल्प पत्र लेकर आरक्षण पत्र जारी किए जाएंगे। बाकी बचे प्लॉट्स नीलामी से बेचे जाएंगे। अगर सब कुछ ठीक-ठाक रहा तो इसी सप्ताह में सेक्टर-10 स्कीम के ले आउट प्लान को मंजूरी मिल सकती है। उल्लेखनीय है कि सरकुलर रोड स्थित 330 काश्तकारों की यह जमीन यूआईटी ने सेक्टर-10 के लिए अवाप्त की थी।

100 काश्तकारों ने तो मुआवजा ले लिया। बाकी खातेदार दिए जा रहे मुआवजे पर सहमत नहीं हुए और कोर्ट केस कर दिया था। विवाद के निबटाने के लिए यूआईटी ने प्रभावित खातेदारों को मुआवजा इसी जमीन में विकसित भूखंड उपलब्ध कराने का फैसला किया है।]

ले-आउट प्लान तैयार है, जल्द मंजूरी मिलेगी - गुप्ता

सेक्टर 10 की कुल जमीन में से 25000 वर्ग मीटर जमीन क्वार्टर्स के लिए आरबीएम को दी जाएगी। खातेदारों को बतौर मुआवजा विकसित भूखंड दिए जाएंगे। योजना का ले-आउट प्लान तैयार हो गया है। ट्रस्ट की मीटिंग में इसे मंजूरी मिलने की उम्मीद है।
-हिमांशु गुप्ता, चेयरमैन, यूआईटी

खबरें और भी हैं...