पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

अव्यवस्था:स्टेडियम के गेट पर गार्ड की तैनाती नहीं होने से विचरण करते हैं आवारा

धाैलपुर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

केंद्र व राज्य सरकार खेल खिलाडियाें काे लेकर जागरुक है। इससे खिलाडियाें काे अच्छी सुविधाएं देने के साथ साथ उन्हें बेहतर प्रशिक्षण दिलाया जा रहा है, लेकिन खेल ग्राउंड की बदहाली से ये सब बेकार ही दिखता है। शहर का एकमात्र ऐसा खेल ग्राउंड जाे कि शहर के बीचाें बीच है, लेकिन नगरपरिषद के अधीन इस इंदिरा गांधी स्टेडियम की ओर सार संभाल न हाेने और काेई सुरक्षाकर्मी की तैनाती न हाेने से खेल खिलाडी अपने हाल पर ही यहां व्यवस्थाएं देखते हैं। यानि की खिलाडियाें काे खेलने से पहले ग्राउंड में चर रहे गधाें के झुंड, गाय, सुअर काे भगाना पडता है।

तब जाकर ग्राउंड में खेलते हैं। बता दें कि बडी फील्ड में क्रिकेट, हाॅकी, फुटबाॅल इत्यादि खेलाें के खिलाडी जिसमें छाेटे बच्चे से लेकर बडे खिलाडी आते हैं, लेकिन बडी फील्ड के गेट पर किसी सुरक्षाकर्मी की तैनाती न हाेने से यहां दिन भर आवारा गधा, सुअर, गाय सांड का विचरण दिख जाएगा।

इससे यहां गंदगी हाेने से सफाई भी न हाेने से ग्राउंड बदहाल हाे रहा है। खिलाडियाें काे खेल के दाैरान बार बार किसी के आने से दुबारा इन गधाें गायाें का विचरण इनके खेल में खलल डालता है। जब खिलाडी खुद बार बार खेल छाेडकर गेट बंद करने के लिए दाैडते हैं।

गार्ड न हाेने से हर किसी का प्रवेश, देर रात तक लोग आते-जाते रहते हैं
नगरपरिषद की ओर से बडी फील्ड में चाैबीस घंटे की सिक्युरिटी गाडर् की तैनाती गत माह थी, लेकिन अब नहीं हाेने से फील्ड में हर किसी का आना जाना बन गया है। इससे रात में ताे लाेग घंटाें तक बैठे रहते हैं, जिन्हें काेई राेकने टाेकने वाला भी नहीं है। जबकि शहर के इस ग्राउंड जाे कि खेल खिलाडियाें के लिए उपयुक्त मैदान है, उसकी सार संभाल रखने से ही यहां खेल खिलाडियाें काे प्राेत्साहन मिलेगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले कुछ समय से आप अपनी आंतरिक ऊर्जा को पहचानने के लिए जो प्रयास कर रहे हैं, उसकी वजह से आपके व्यक्तित्व व स्वभाव में सकारात्मक परिवर्तन आएंगे। दूसरों के दुख-दर्द व तकलीफ में उनकी सहायता के ...

और पढ़ें