भास्कर अभियान:डंपिंग पाइंट खत्म हों तो उदयपुर की फतेह सागर जैसी दिखेगी सुजान गंगा

भरतपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फतेह सागर लेक। - Dainik Bhaskar
फतेह सागर लेक।

लोहागढ़ किले की शान सुजान गंगा के किनारे बने सभी डंपिंग पाइंट को नगर निगम तत्काल खत्म करके वहां बाउंड्रीवॉल की मरम्मत कर जाल लगा दे तो हमारी यह नहर भी उदयपुर के फतह सागर जैसी नजर आएगी। सफाई विशेषज्ञों का कहना है कि नहर किनारे कचरा पात्र रखना समस्या का हल नहीं है, क्योंकि उससे लोगों की कचरा डालने की आदत नहीं बदलेगी।

उससे कचरा बाहर फैलेगा और उड़कर फिर से नहर में ही गिरेगा। सफाई विशेषज्ञों का कहना है कि नहर और आसपास गंदगी फैलाने वालों पर नगर निगम सख्त कार्रवाई करे। डंपिंग पाइंट पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएं और उनके आधार पर कचरा डालने वाले लोगों से जुर्माना वसूल किया जा सकता है।

एक्सपर्ट व्यू : कचरा डालने वालों के हों चालान, वसूला जाए जुर्माना

नेशनल एन्वायरमेंटल साइंस एकेडमी के कोआर्डिनेटर मदन मोहन त्रिगुणायत के मुताबिक बाहर से गंदा पानी जाने के रास्ते पूरी तरह बंद हों। नगर निगम कर्मी सुबह से देर रात तक नहर पर गश्त करें। कचरा डालने वालों का मौके पर ही चालान किया हो। चालान के साथ ही ऐसे लोगों की पहचान फोटो समेत मीडिया में सार्वजनिक हो। जनप्रतिनिधि, राजनेता और प्रतिष्ठित व्यक्ति गंदगी करने वालों को संरक्षण ना दें। इसमें फ्लोटिंग फव्वारों की संख्या बढ़ाई जाए।

खबरें और भी हैं...