पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आरटीओ:45 कर्मचारियों के शरीर की इलैक्ट्रो एक्यूपंक्चर पद्धति से की जांच

भरतपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भरतपुर. आरटीओ में लगे शिविर में जांच कराते कर्मी। - Dainik Bhaskar
भरतपुर. आरटीओ में लगे शिविर में जांच कराते कर्मी।

इलैक्ट्रो एक्यूपंक्चर पद्वति से निशुल्क जांच शिविर का आयोजन परिवहन कार्यालय में किया गया। इलैक्ट्रो एक्यूपंक्चर विशेषज्ञों की टीम में राकेश फौजदार, रामवीर सिंह डागुर, जल सिंह फौजदार, रूद्राक्ष सक्सैना और सुमित राजपूत ने 45 कर्मचारियों की जांच कर उनको बीमारियों की जानकारी दी।

आयुर्वेद विभाग के सेवानिवृत्त उपनिदेशक डॉ. अशोक बाबू शर्मा ने कहा कि इलैक्ट्रो एक्यूपंक्चर के लिए एक्यूलाइफ मशीन से जांच व्यक्ति के हथेली पर स्थित एक्युप्रेशर बिन्दुओं पर की जाती है। बिना सुई एवं शरीर से खून लिए बिना जांच पूर्ण रूप से सुरक्षित एवं विश्वसनीय होती है।

इस अवसर डॉ. शर्मा ने कहा की इलैक्ट्रो एक्यूपंक्चर पद्वति शरीर में बिना सुई को चुवाहे की जाती है और प्रत्येक उम्र का व्यक्ति इस चीज का लाभ ले सकता है। इस थैरेपी से अस्थमा, गठिया, शुगर, साइटिका, सर्वाइकल, माइग्रेन, लीवर, किडनी एवं हार्ट की बीमारी सहित घुटने, महिलाओं की सभी बीमारियों का सटीक उपचार संभव है।

शिविर में प्रादेशिक परिवहन अधिकारी सतीश कुमार, जिला परिवहन अधिकारी सत्यप्रकाश शर्मा, परिवहन निरीक्षक मनोज इन्दौलिया, मानवेन्द्र सिंह, गौरव गर्ग, महक सिंह, भानुप्रताप सिंह, शमशेर सिंह आदि उपस्थित रहें।

खबरें और भी हैं...