• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bharatpur
  • The Reason For The Firing On Women And Children Was The Incident Of The Garbage Neighbor, The Life Of The Lawyer's Family Was Saved, The Mother Had Been Beaten Up Earlier Too.

महिलाओं-बच्चों पर फायर झोंका, कचरा क्यों फेंका:पड़ोसी ने पहले बुजुर्ग महिला से की थी मारपीट, इस बार फायरिंग में बाल-बाल बचा वकील का परिवार

भरतपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

वकील की पत्नी और बच्चों पर कचरा डालने के विवाद को लेकर पड़ोसी ने फायरिंग कर दी। हालांकि, परिवार बाल-बाल बच गया। सड़क पर कचरा डालने का यह विवाद महीनों से चल रहा था। मामला भरतपुर के राजेंद्र नगर इलाके का है। पहले भी कई बार आरोपी धमकी देता रहा है।

बाल-बाल बचे पत्नी और बच्चे, जून में भी किया था हमला
वकील गजराज सिंह के मुताबिक, उनके घर के सामने आरोपी अभिलाष के पिता राजेंद्र सिंह का मकान है, जिससे सड़क पर कचरा डालने को लेकर कई महीनों से विवाद चल रहा है। राजेंद्र सिंह ने परिवार ने 4 जून जो गजराज सिंह के परिवार पर हमला भी किया था। जिसमें उनकी मां और उनसे मारपीट भी की थी। राजेंद्र सिंह का परिवार उनके परिवार को अक्सर धमकी देता रहता है।

कनपटी पर कट्‌टा लगाकर भी बेटे को धमकाया था
राजेंद्र सिंह का बेटा अभिलाष पहले भी गजराज सिंह के बेटे को धमका चुका था। गजराज का बेटा स्कूल से पढ़कर अपने घर आ रहा था तो अभिलाष ने उसे रास्ते में अपने दोस्तों के साथ उसकी पिटाई कर दी और उसके कनपटी पर कट्टा लगाकर उसे जान से मारने की धमकी देने लगा। बच्चे के घर पहुंचने के कुछ देर बाद अभिलाष अपने दोस्तों के साथ वहां भी पहुंच गया। अभिलाष गजराज सिंह के घर के सामने खड़ा होकर गलियां देने लगा। गजराज सिंह की पत्नी और उनके बच्चे गेट पर आकर खड़े हो गए। इतने में अभिलाष के एक साथी ने कट्टा निकालकर गजराज सिंह के परिवार के ऊपर फायरिंग कर दी। गजराज की पत्नी और बच्चे गोली से बाल-बाल बचे। लेकिन फायरिंग करते हुए बदमाश का एक व्यक्ति ने वीडियो बना लिया।

खाने का बचा हुआ सामान घर के बाहर रख दिया था
गजराज सिंह के परिवार और राजेंद्र सिंह के परिवार में सबसे पहले 4 जून को झगड़ा हुआ था। गजराज ने बताया की 4 जून 2021 को उनकी पत्नी को कुछ खाने का बचा हुआ सामान घर के बाहर रख दिया था। जो हवा के साथ उड़कर राजेंद्र सिंह के घर की तरफ चला गया। जिसके बाद राजेंद्र सिंह गजराज सिंह से झगड़ने लगा। झगड़ा इतना बढ़ा की राजेंद्र सिंह ने गजराज सिंह और मां की पिटाई कर दी। इसकी शिकायत गजराज सिंह ने मथुरा गेट थाने में दर्ज करवाई। मामला दर्ज होने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और नक्शा मौका बनाकर आ गई लेकिन आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया।