• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bharatpur
  • The Relatives Of The Married Woman Accused The Hospital Staff Of Giving Wrong Injection, Case Was Registered Against The Hospital Staff, Postmortem Of The Dead Body Of The Married Woman Is Being Done

भरतपुर में गर्भवती की मौत से हंगामा:डॉक्टर ने बीपी का इंजेक्शन लगाने को बोला, नर्स ने दर्द का लगा दिया, महिला की मौत होते ही अस्पताल स्टाफ ने शव बाहर रखा, परिजन बिफरे

भरतपुरएक वर्ष पहले
मृतक अशोक बाई।

भरतपुर के जनाना अस्पताल में देर रात एक विवाहिता की मौत हो गई। इसके बाद परिजनों ने हंगामा कर दिया। मथुरा गेट थाना पुलिस मौके पर पहुंची और मामला शांत करवाया। विवाहिता के परिजनों का आरोप है कि नर्स ने गलत इंजेक्शन दे दिया था, जिसके कारण अशोक बाई की मौत हो गई।

अशोक बाई के परिजनों ने बताया कि उसकी शादी 2019 में करावली थाना भुसावर के रहने वाले दिलीप से हुई थी। वह गर्भवती थी। डिलीवरी 25 अगस्त को होनी थी। उसके शरीर में खून की कमी थी। उसे भरतपुर के जनाना अस्पताल में कल सुबह 10 बजे खून चढ़वाने के लिए भर्ती किया गया था। उसे 4.6 एमएल खून चढ़ाया गया, लेकिन रात करीब 12 बजे उसके पेट में अचानक दर्द हुआ। इसके बाद जनाना अस्पताल की नर्स ने अशोक बाई को इंजेक्शन लगाया।

इंजेक्शन लगने 15 मिनट के बाद उसके मुंह से झाग आने लगे। उसने तड़प-तड़पकर दम तोड़ दिया। अशोक बाई के पेट में पल रहे बच्चे की भी मौत हो गई। मौत के बाद उसके परिजन गुस्से में आ गए और डॉक्टर के पास पहुंचे। डॉक्टर ने बताया कि उन्होंने नर्स को बीपी का इंजेक्शन लगाने के लिए बोला है।

जब परिजनों ने नर्स से बात की तो उसने बताया कि अशोक बाई को दर्द का इंजेक्शन लगाया था। इस पर परिजनों ने अस्पताल में जमकर हंगामा किया। हंगामा होते देख जनाना अस्पताल के स्टाफ ने शव को अस्पताल के बाहर रखवा दिया। स्टाफ की इस हरकत को देख अशोक बाई के परिजन लगातार हंगामा करते रहे। सूचना पर मथुरा गेट थाना पुलिस जनाना अस्पताल पहुंची और मामला शांत करवाया। अशोक बाई के परिजनों ने डॉक्टर और नर्स के खिलाफ मथुरा गेट थाने में मामला दर्ज करवाया है।

खबरें और भी हैं...