पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चंडीगढ़ विजिट को लेकर विवाद:पार्षदों की समझाइश का दौर शाम तक चला, नहीं बनी सहमति

भरतपुर16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
भरतपुर.चंडीगढ़ दौरे के लिए पार्षदों से चर्चा करते महापौर अभिजीत कुमार। - Dainik Bhaskar
भरतपुर.चंडीगढ़ दौरे के लिए पार्षदों से चर्चा करते महापौर अभिजीत कुमार।

चंडीगढ़ दौरे का विरोध कर रहे पार्षदों को मनाने का मंगलवार देर शाम तक दौर चलता रहा। महापौर ने आम सहमति बनाने के लिए सभी पार्षदों को दोपहर में निगम कार्यालय में बुलाया गया। दौरे में शामिल होने के इच्छुक पार्षदों से उनकी लिखित सहमति मांगी गई। अलग-अलग समूहों में पहुंचे पार्षदों ने अपनी-अपनी राय रखी।

कुछ ने मनोनीत पार्षदों को भी शामिल करने की करने की बात कही तो कुछ ने इसका विरोध किया। महापौर अभिजीत कुमार के कार्यालय से मंगलवार सुबह सभी पार्षदों को फोन कर दोपहर तीन बजे बैठक के लिए बुलाया गया। विरोध करने वालों में शामिल नेता प्रतिपक्ष कपिल फौजदार, हरभान सिंह सहित कई पार्षद निगम पहुंचे। महापौर ने सभी से दौरे में शामिल होने का अनुरोध किया।

इस पर विरोधी पार्षदों ने साधारण सभा के प्रस्ताव के अनुरुप पहले 21 पार्षदों की कमेटी बनाने की मांग की। साथ ही उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि चाहे सभी पार्षदों को दौरे में शामिल कर लिया जाए, लेकिन सफाई व्यवस्था के अध्ययन के लिए दौरे में जाने वाले पार्षदों में से 21 सदस्यों समिति से ही रिपोर्ट ली जाए। जिस पर महापौर ने दौरे में शामिल हाेने की सहमति पर हस्ताक्षर करने के लिए कहा।

विरोध करने वाले पार्षद अपनी मांग पर अड़े रहे। पार्षदों का एक-एक कर देर शाम तक महापौर से मिलने का क्रम जारी रहा। कुछ पार्षदों अलग से भी महापौर से मुलाकात की।

खबरें और भी हैं...