पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ब्लैक फंगस:आरबीएम में ब्लैक फंगस का इलाज शुरू, तीन मरीज भर्ती

भरतपुर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

आरबीएम में ब्लैक फंगस का इलाज शुरू हो गया है। इसके लिए नॉन कोविड जोन में चौथी मंजिल पर ऑक्सीजन सपोर्टेड 20 बेड का स्पेशल वार्ड बनाया है। साथ ही 19 विशेषज्ञ डॉक्टरों का बोर्ड बनाया है। ब्लैक फंगस वार्ड में गुरुवार देर रात को अनाह गेट बजरिया निवासी 32 वर्षीय महिला, शुक्रवार बांसी खुर्द के 45 वर्षीय व्यक्ति समेत 2 जनों भी भर्ती किया गया।

बांसी खुर्द के रोगी की आंखों में इन्फेक्शन जो ब्रेन तक पहुंच गया था। इसलिए उसे शनिवार को जयपुर रैफर कर दिया गया। पीएमओ डॉ जिज्ञासा साहनी ने बताया कि अनाह गेट की महिला और रूपबास के एक रोगी की एंडोस्कोपी करके बॉयोप्सी की जांच के लिए सैंपल भेजा गया है। जबकि फुटपुरी कामां के रोगी को भर्ती किया है। इस प्रकार 3 रोगियों का यहां इलाज चल रहा है।

इधर, जिले में अब कोरोना कंट्रोल में आने लगा है। नए संक्रमितों की संख्या लगातार कम हो रही है। शनिवार को बीते 24 घंटों के दौरान 1125 सैंपलों की जांच में 40 लोग पॉजिटिव पाए गए। इस तरह संक्रमण दर 3.56 प्रतिशत तक आ गई। लेकिन, कोरोना से होने वाली मौतों का सिलसिला अभी नहीं थम पा रहा है।

शनिवार को भी सरकारी आंकड़ों में 3 और लोगों ने दम तोड़ दिया। इस महीने में कोरोना से हुई मौतों का आंकड़ा 100 को पार कर गया है। लेकिन, राहत की बात ये है कि लगातार संक्रमित रोगी ठीक हो रहे हैं। शनिवार को भी 358 रोगी ठीक हुए। जबकि एक्टिव केस घटकर 1177 रह गए। शनिवार को रिकवरी रेट 92.67 प्रतिशत तक पहुंच गई।

खबरें और भी हैं...