• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bharatpur
  • Two Farmers Clashed In The Mustard Market, Slapped Each Other Fiercely, Both The Farmers Were Taken Into Custody By The Police, Due To The Shortage Of Fertilizers, The Farmers Put A Lock On The Purchase And Sale Committee

किसानों ने एक-दूसरे को जमकर मारे थप्पड़; VIDEO:खाद मिलने की सूचना पर भरतपुर की सरसों मंडी में जुटे, खाद लेने की जद्दोजहद में भिड़े किसान, पुलिस ने किया गिरफ्तार

भरतपुरएक वर्ष पहले
भरतपुर के सरसों मंडी में खाद के झगड़ते किसान।

भरतपुर की सरसों मंडी में मंगलवार को खाद लेने की जद्दोजहद में 2 किसान भिड़ गए। दोनों ने एक-दूसरे पर जमकर थप्पड़ों की बारिश की। झगड़े की सूचना पर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों को धारा 151 के तहत शांति भंग करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया।

भरतपुर में कई दिनों से खाद की किल्लत है। मानसून के बाद अब किसानों को बुवाई के लिए खाद नहीं मिल रहा है। किसानों को भटकना पड़ रहा है। कई जगह ब्लैक में खाद बिक रहा है। कुछ किसान खाद के लिए उत्तर प्रदेश तक के चक्कर काट रहे हैं। फिर भी उन्हें खाद नहीं मिल रहा है। दूसरे प्रदेश के होने का हवाला देकर खाली हाथ लौटा दिया जा रहा है।

भरतपुर में अभी 1000 रैक खाद की जरूरत है, लेकिन 100 रैक ही आई है। ऐसे में खाद को लेकर मारामारी चल रही है। मंगलवार को सरसों मंडी में खाद आने की किसानों को किसी ने सूचना दे दी। सुबह 4 बजे से ही किसान मंडी में भीड़ जुटनी शुरू हो गई। पहले खाद लेने की होड़ मच गई। भीड़ की वजह से वहां भगदड़ का माहौल हो गया। कई महिलाएं तो जमीन पर गिर गईं। इसी बीच खाद पहले लेने को लेकर भीड़ में दो किसानों में धक्का-मुक्की हो गई और इसके बाद दोनों ने एक दूसरे को थप्पड़ मारने शुरू कर दिए।

किसान नेता नेम सिंह फौजदार ने कहा कि बुवाई का समय है। ऐसे में खाद नहीं मिल रहा है। यह विकट समस्या है। खाद नहीं मिलने के विरोध में फौजदार के नेतृत्व में किसानों ने क्रय-विक्रय समिति पर ताला तक जड़ दिया।

खबरें और भी हैं...