पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गोपालगढ़ इलाके के पथराली गांव का मामला:दूसरे थाना क्षेत्र में दबंगई दिखाने गए कांस्टेबल से ग्रामीणों ने छीनी गाड़ी

पहाड़ी9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

राॅयल्टी ठेकेदार की गाड़ी को लेकर दूसरे थाना इलाके में दबंगई दिखाने गए पहाड़ी थाने के कांस्टेबल व उसके साथियों व ग्रामीणों में मारपीट हो गई। ग्रामीणों ने कांस्टेबल की गाड़ी को छीन लिया। बाद में गोपालगढ़ थाना पुलिस पथराली गांव पहुंची और गाड़ी को ग्रामीणों के कब्जे से छुड़ाया।

दरअसल, गोपालगढ़ थाना क्षेत्र के पथराली गांव के एक जने का हरियाणा के लोगों से 70 हजार रुपए का लेनदेन का विवाद था। इसको लेकर हरियाणा के लोगों की शिफ्ट गाड़ी को ग्रामीणों ने रोक लिया और कार सवार लोगों को अपनी ही बाइक देकर पैसे लाने भेज दिया। इन लोगों ने पहाड़ी थाने पर तैनात कांस्टेबल सहजोर से बातचीत की।

सहजोर अपने साथ अन्य पुलिस कर्मियों को साथ लेकर रॉयल्टी ठेकेदार की गाड़ी मांगकर पथराली पहुंच गया। यहां ग्रामीणों ने जमकर मारपीट करने के बाद रॉयल्टी ठेकेदार की गाड़ी को छीन लिया। पहाड़ी रॉयल्टी ठेकेदार और पुलिस की आपस में अच्छा तालमेल होने के कारण थाना पुलिस द्वारा महीने में करीब 20 दिन रॉयल्टी ठेकेदार की गाड़ी को निशुल्क काम में लेती है।

इधर, रॉयल्टी ठेके के इंचार्ज समुंदर सिंह ने बताया कि सहजोर ने एक गांव में जाने के लिए कुछ समय के गाड़ी मांगी थी। इधर, थाना प्रभारी सुनील गुप्ता ने बताया कि गोपाल एएसआई के साथ इलाके में गश्त के लिए भेजा था।

खबरें और भी हैं...