पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अफसरों में हडकंप:कलेक्टर ने जहां लिखवाया सीएफसीडी निर्माण निषिद्ध क्षेत्र, वहीं चल रहा काम

भरतपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जघीना गेट के पास दीवार पर लिखे कलेक्टर के दिखावटी आदेश को धत्ता बता किया जा रहा निर्माण। - Dainik Bhaskar
जघीना गेट के पास दीवार पर लिखे कलेक्टर के दिखावटी आदेश को धत्ता बता किया जा रहा निर्माण।
  • सीएफसीडी की जमीन पर अब निगम ने लगाए बोर्ड
  • कुम्हेर गेट के पास भी माफिया ने पाट दी सड़क और सीएफसीडी के बीच की खाई

शहर में बरसाती पानी की निकासी के लिए चिकित्सा राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग जहां 150 करोड़ रुपए का ड्रेनेज प्लान बनवा रहे हैं। वहीं इसके लिए महत्वपूर्ण सिटी फ्लड कंट्रोल ड्रेन (सीएफसीडी) पर जिला प्रशासन, नगर निगम और यूआईटी के अफसरों की मिलीभगत से लगातार कब्जा किए जा रहे हैं।

ताजा मामला सरकूलर रोड स्थित जघीना गेट के पास का है। यहां एक दीवार पर जिला कलेक्टर ने मोटे-मोटे अक्षरों में लिखवाया हुआ है कि सीएफसीडी निर्माण निषिद्ध क्षेत्र- आज्ञा से जिला कलेक्टर, उसी के बगल में पिछले कुछ दिन से एक शोरूम का निर्माण कार्य चल रहा है। मौके पर मिले ठेकेदार के मुताबिक इस निर्माण के लिए भी नगर निगम अथवा यूआईटी से कोई अनुमति नहीं ली गई है। भास्कर संवाददाता ने गुरुवार को पूरे सीएफसीडी क्षेत्र का दौरा किया तो कई जगहों पर अतिक्रमण होते दिखे। इसी तरह कुम्हेर गेट के पास भी काफी एरिया में सीएफसीडी से लगती खाई को पाट दिया गया। यहां बुधवार शाम तक मिट्टी डालने का काम चल रहा था। लेकिन, गुरुवार को दैनिक भास्कर में खबर छपने के बाद बंद हो गया। आस-पास के व्यवसायियों का कहना है कि यहां रोजाना दिनभर डंपर और जेसीबी की रेलमपेल लगी रहती है। अवैध निर्माण की भनक लगते ही नोटिस थमाने की खानापूर्ती करने वाला जिला प्रशासन यहां शिकायतों के बाद भी सुध नहीं ले रहा है।

बड़ा सवालः धरातल पर कैसे लागू होगा ड्रेनेज प्लान
रोचक तथ्य यह है कि सीएफसीडी और इससे सटे खाई क्षेत्र में अब तक हो चुके अवैध निर्माणों को राजस्थान हाईकोर्ट के आदेश के बावजूद हटा तो नहीं पाया। लेकिन, नए निर्माणों को रोक भी नहीं रहा है। ऐसे में अगर 150 करोड़ का ड्रेनेज प्लान बन भी गया तो धरातल पर लागू कैसे होगा। क्योंकि पानी के बहाव क्षेत्र में कहीं लेवलिंग का इश्यू आएगा तो कहीं अतिक्रमणों को हटाने का।
कहीं भी अतिक्रमण नहीं होने देंगे : डिडेल
इधर, जिला कलेक्टर नथमल डिडेल ने गुरुवार शाम को एक बयान जारी करके कहा कि चिकित्सा राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग के निर्देश हैं कि शहर में कहीं भी अतिक्रमण नहीं होने दिया जाए। अब कहीं भी अतिक्रमण नहीं होने देंगे। शिकायत पर पुलिस की मदद से हटाया जाएगा।
पुराने अतिक्रमण हटे नहींं, नए रुक नहीं रहे
इसे अफसरों की अनदेखी मानिए अथवा राजनीतिक दबाव कि हाईकोर्ट से अवमानना की प्रताड़ना झेलने के बाद भी अफसर सीएफसीडी में अतिक्रमणों को लेकर आंखें बंद किए हुए हैं। जस्टिस मुनीश्वर नाथ भंडारी ने गत दिनों सीएफसीडी के मामले में स्वप्रेरणा से प्रसंज्ञान लेकर तत्कालीन कलेक्टर संदेश नायक को तलब कर कब्जे हटाने और नए नहीं होने देने के लिए पाबंद किया था। लेकिन, नए कलेक्टरों ने इस ओर ज्यादा ध्यान नहीं दिया।
सड़क और सीएफसीडी के बीच की खाई को पाटा नहीं जा सकता: श्रीनाथ शर्मा
सीएफसीडी और सुजान गंगा नहर जैसे महत्वपूर्ण बुनियादी मुद्दों को लेकर लंबे समय से कानूनी लड़ाई लड़ रहे सीनियर एडवोकेट श्रीनाथ शर्मा का कहना है कि सरकूलर रोड से सीएफसीडी के बीच खाई की जमीन है। इसे ना तो पाटा जा सकता है, और ना ही इसमें किसी तरह का निर्माण किया जा सकता है। हाईकोर्ट भी इसके लिए जिला कलेक्टर और यूआईटी सचिव को पाबंद कर चुकी है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी विशिष्ट कार्य को पूरा करने में आपकी मेहनत आज कामयाब होगी। समय में सकारात्मक परिवर्तन आ रहा है। घर और समाज में भी आपके योगदान व काम की सराहना होगी। नेगेटिव- किसी नजदीकी संबंधी की वजह स...

    और पढ़ें