पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

मंजूरी:बांध बारैठा की मरम्मत और नहरें पक्की करने के लिए 16.28 करोड़ रुपए की मिली स्वीकृति

रुदावल7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • नहरों के निर्माण और बांध एवं गेट मरम्मत पर खर्च होगी राशि

जिले के सबसे बड़े बांध बारैठा से जुड़े 28 गांवों के किसानों के लिए खुश खबरी है। बांध बारैठा से जुड़ी तीन कैनालों की 24 किमी की नहरों को पक्की करने एवं बांध व फिलर गेटों की मरम्मत के लिए 16.28 करोड़ रुपए की आरडब्ल्यूएसएलआईपी योजना के तहत स्वीकृत मिल चुकी है। टेंडर प्रक्रिया पूरी होने के बाद जल्द निर्माण कार्य शुरू हो जाएंगे।

बांध बारैठा की 24 किलोमीटर की नहरें पक्की होने से किसानों को सिंचाई के लिए टेल तक पर्याप्त पानी पहुंचाया जा सकेगा। साथ ही 180 एमसीएफटी पानी की बर्बादी भी रोकी जा सकेगी। जिससे एक महीने तक ज्यादा नहरें चलाई जा सकती है। वर्तमान में तीनों कैनालों की नहरें कच्ची होने से किसानों को टेल तक पानी पहुंचने में कई दिन लग जाते है साथ ही सीपेज लाॅस भी अधिक रहता है।

नहरें पक्की होने से रूपवास व बयाना तहसील के 28 गांवों की 4243 हेक्टेयर जमीन सिंचित होगी। जल संसाधन विभाग के एसई राकेश गुप्ता ने बताया कि विभाग ने तीनों कैनालों की नहरों को पक्की करवाने एवं बांध एवं गेट मरम्मत के प्रस्ताव बनाकर भेजे थे।

जिसे विभाग ने आरडब्ल्यूएसएलआईपी योजना के तहत मंजूर कर लिया है। जिसके लिए 16.28 करोड़ की राशि स्वीकृत हुई है। शीघ्र टेंडर व वर्क आर्डर मिलने की संभावना है। इस प्रोजेक्ट में नहरें पक्की करने के साथ ही बांध एवं फिलर गेटों की मरम्मत तथा क्राॅसिंग में पुलियाओं का निर्माण करवाया जाएगा।

नहरें पक्की होने से 180 एमसीएफटी पानी बचेगा
एसई राकेश गुप्ता ने बताया कि बांध बारैठा की तीन कैनाल व 16 माइनर है। सिंचाई के लिए बांध से 740 एमसीएफटी पानी छोड़ा जाता है। एक दिन की नहर खोलने में 6 एमसीएफटी पानी खर्च होता है। नहरें पक्की होने से 180 एमसीएफटी पानी की बर्बादी बच जाएगी। जिससे एक महीने तक नहरें चलाई जा सकती है।

वर्तमान में नहरें कच्ची होने से टेल तक पानी पहुंचने में एक सप्ताह लगता है और 20 फीसदी पानी की भी बर्बादी होती है। जब नहरें पक्की हो जाएगी तब किसानों को टेल तक सिंचाई के लिए पर्याप्त पानी मिलेगा और सीपेज लाॅस भी नहीं होगा।

23.92 किमी की तीन कैनालों की नहरें
बांध बारैठा से तीन प्रमुख कैनाल निकलती है। कैनाल संख्या एक से महमदपुरा होते हुए खटका से निकलकर पुराबाई खेडा तक है, जिसकी लंबाई 6.55 किमी है। कैनाल संख्या दो से बांध बारैठा से रुदावल-नाथपुरा तक लंबाई 7.92 किमी है। कैनाल संख्या तीन से बांध बारैठा से सूपा होकर नगला कुलवारिया नारौली तक लंबाई 9.45 किमी है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज समय बेहतरीन रहेगा। दूरदराज रह रहे लोगों से संपर्क बनेंगे। तथा मान प्रतिष्ठा में भी बढ़ोतरी होगी। अप्रत्याशित लाभ की संभावना है, इसलिए हाथ में आए मौके को नजरअंदाज ना करें। नजदीकी रिश्तेदारों...

और पढ़ें