झाड़ियों में मिला युवक का शव:3 दिन पहले परिवार ने गुमशुदगी का मामला करवाया था दर्ज,शव रखकर किया हंगामा

चित्तौड़गढ़10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खेत में पड़ा शव। - Dainik Bhaskar
खेत में पड़ा शव।

जिले के निंबाहेड़ा क्षेत्र में बडौली माधोसिंह चौराहे के पास झाड़ियों में युवक का शव मिला। तीन पहले मृतक की गुमशुदगी का मामला दर्ज करवाया गया था। पहचान जावदा निवासी के रूप में हुई।

पुलिस उप अधीक्षक sc/st सेल लाभूराम बिश्नोई ने बताया कि रविवार दोपहर शव की सूचना पर निम्बाहेड़ा सदर पुलिस पहुंची। शव का फोटो आसपास दिखाने पर पहचान जावदा निवासी समरथ रावत मीणा (32) पुत्र गोपी लाल मीणा के रूप में हुई। पुलिस ने शव को मोर्चरी में रखवाकर परिजनों को सूचना दी।

ट्रेक्टर में शव रखकर जताया विरोध
मृतक के परिजन जब हॉस्पिटल पहुंचे तो हंगामा किया। उनका कहना था कि 3 दिनों से समरथ घर से गायब था। इस दौरान पुलिस को कई बार कार्रवाई करने के लिए कहा लेकिन नहीं की। साथ ही परिजनों ने जल्द से जल्द हत्यारे को पकड़ने की मांग की। परिजनों ने शव को एक ट्रैक्टर में रख दिया और बदले में मुआवजे की मांग की। मामला बिगड़ता देख जांच पुलिस उप अधीक्षक sc/st सेल लाभूराम बिश्नोई को सौंपी गई। समझाने के बाद पोस्टमार्टम के लिए राजी हुए।

परिजनों को समझाती पुलिस।
परिजनों को समझाती पुलिस।

टिफिन चोरी के शक ने दोस्त की ले ली जान
पुलिस ने एक संदिग्ध व्यक्ति को भी हिरासत में लिया है। प्रारंभिक पूछताछ में हत्या का खुलासा किया गया। फिलहाल पुलिस मामले में खुलकर नहीं बोल रही है। संदिग्ध ने बताया कि मृतक अपने कुछ साथियों के साथ बैठा हुआ था। उसके एक साथी ने अपने टिफिन में कुछ रुपए रखे हुए थे। समरथ अपने दोस्तों के साथ पहले शराब पी और नशे के हालत में अपने दोस्त का टिफिन उठाकर ले आया। टिफिन में रखे रुपए में से समरथ ने रखे रुपए में से कुछ रुपए खर्च भी कर दिए। इस बात का जब उसके दोस्तों को पता चला तो नशे की हालत में समरथ की पिटाई शुरू कर दी। बुरी तरह से मारपीट के दौरान समरथ की मौत हो गई। हत्या के बाद उसके दोस्तों ने डर के मारे उसे एक खाली स्थान में जाकर उसके शव को फेंक दिया। एक आरोपी को हिरासत में लेने की बात डिप्टी लाभूराम की ओर से बताई गई।