पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लंबी लड़ाई के बाद जिला हुआ कोविड फ्री:आखरी दो कोरोना पॉजिटिव भी हुए रिकवर, 11 दिनों से नहीं आया एक भी पॉजिटिव केस

चित्तौड़गढ़11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

लंबी लड़ाई के बाद आखिरकार चित्तौड़गढ़ जिला कोरोना फ्री हो गया है। वर्तमान में यहां कोरोना का एक भी एक्टिव केस नहीं है। पिछले 11 दिनों से जिले में कोई नया पॉजिटिव केस नहीं आया है। चित्तौड़ में कोरोना का एक भी एक्टिव केस नहीं होना शुभ संकेत हैं।

दो जने कोविड पॉजिटिव थे, जो बुधवार को रिकवर हुए। हालांकि, अभी कोरोना खत्म नहीं हुआ है। संक्रमण का खतरा बरकरार है, ऐसे में प्रशासन की ओर से लोगों को खास सावधानी बरतने की सलाह लगातार दी जा रही है। करीब पांच महीने के जंग के बाद आज जिले को यह खुशखबरी मिली है। दूसरी लहर शुरू होने के बाद कोरोना के बढ़ते केसों ने हाहाकार मचा दिया था। अप्रैल और मई महीने में कोरोना पिक पर रहा।

चित्तौड़ में कोरोना का एक भी एक्टिव केस नहीं

कोरोना संबंधी गाइडलाइंस मानना, मास्क लगाना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना बेहद आवश्यक है। ऐसा इसलिए क्योंकि देश के कई हिस्सों में कोरोना एक बार फिर से सक्रिय हुआ है। ऐसे में कोरोना के गिरते ग्राफ और वैक्सीनेशन के दौर के बीच भी जागरूक रहना जरूरी है। जिससे चित्तौड़ जिला इसी तरह कोरोना फ्री रह सके।

19669 लोगों के रिकवर होने के साथ ही चित्तौड़ हुआ कोविड फ्री

पिछले डेढ़ साल में चित्तौड़गढ़ जिले में कुल दक लाख 92 हजार 429 लोगों के कोविड टेस्ट के लिए सैंपल लिए गए थे। जिनमें 19 हजार 808 लोगों में कोरोना का संक्रमण पाया गया था। अच्छी बात यह है कि आज की तारीख में चित्तौड़ में एक भी कोरोना पॉजिटिव केस नहीं हैं।

सभी 19669 पॉजिटिव केस रिकवर हो चुके हैं। जबकि अभी तक आकड़ों के हिसाब से 139 लोगों की मौत हो चुकी है। मुख्य चिकित्सा और स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. रामकेश गुर्जर का कहना है कि चित्तौड़ में फिलहाल एक भी एक्टिव केस नहीं है लेकिन लोगों को सतर्क रहना होगा।

खबरें और भी हैं...