पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

लाॅकडाउन में राेजगार:काेराेना ने बदल दिया काम, शिक्षक किराना तो टेंट व्यवसायी इलेक्ट्रिक सामान बेचने लगे

चित्ताैड़गढ़4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • लाॅकडाउन में राेजगार ठप हाेने पर बेराेजगार होने पर निराश नहीं हुए बल्कि आजीविका बदली

कहते हैं कि एक रास्ता बंद हाेता है तो दूसरे खुद खुल जाता है। बस हिम्मत एवं समझदारी से काम लेना चाहिए। कोरोनाकाल और लाॅकडाउन से प्रभावित हुए कई लाेगाें ने इसे सिद्ध किया। काेराेनाकाल में फाेटाेग्राफी, टेंट और शादियाें से जुड़े व्यापार पर ब्रेक लग गए। कुछ दिन इंतजार किया पर जब हालात नहीं बदले तो परिवार चलाने के लिए कई लोगों ने बिजनेस और काम बदल लिए। टेंट व्यापारी बिजली फिटिंग का सामान

बेचने लगे। फाेटाेग्राफराें ने मजदूरी, टीफिन सेंटर शुरू कर दिया। कई प्राइवेट स्कूलाें के शिक्षक भी दूसरा कामधंधा करने लगे। किसी ने किराना दुकान ताे किसी ने सब्जी बेचने का काम शुरू किया। यानी कोरोनाकाल ने लोगों की लाइफ स्टाइल ही नहीं बिजनेस और अाजीविका का तरीका भी बदल दिया। दैनिक भास्कर ने कुछ ऐसे ही लाेगाें की बदली हुई दुनिया समझी।

निजी स्कूल बंद हाेने से शिक्षक ने किराना दुकान खाेली

गगगरार के सुरजानिया (साड़ास) निवासी राधेश्याम जाट निजी स्कूल में शिक्षक थे। स्कूल बंद हाेने से बेराेजगार हाे गए। अार्थिक समस्या बढ़ने लगी। भरण पाेषण करना मुश्किल हाे गया। गांव के पास ही साड़ास में किराना दुकान खाेली। इससे राेजगार का साधन मिल गया। उन्हाेंने बताया कि समय एवं परिस्थितियां एक जैसी नहीं रहती। इसलिए यदि एक राेजगार बंद हाे ताे दूसरे के बारे में साेचना चाहिए ताकि बेराेजगारी की समस्या से परेशान नहीं हाेना पड़े।

फाेटाेग्राफी छाेड़कर टिफिन सेंटर शुरू कियाकुंभानगर निवासी विनाेद शर्मा ने फाेटाेग्राफी की दुकान लगाई कि लाॅकडाउन शुरू हानेे से धंधा ठप हाे गया। जाे शादियाें की बुकिंग थीं वाे भी कैंसल हाे गई। परिवार चलाना मुश्किल हाे गया। लाॅकडाउन के दाैरान अचानक एक आइडिया मिला और टिफिन सेंटर खाेल दिया। शुरुआत में दाे चार टिफिन की बुकिंग शुरू की। धीरे-धीरे यही अब मूल काम बन गया है।

टेंट का धंधा ठप हुआ ताे खाेली इलेक्टाॅनिक सामान की दुकानधमाना के ज्याेतिप्रकाश त्रिपाठी। वर्षाें से टेंट व्यवसाय कर रहे थे। काेराेनाकाल में शादियां कैंसल हाेने से व्यवसाय ठप हाे गया। कुछ दिन इंतजार के बाद दूसरा व्यापार शुरू कर दिया। ज्याेतिप्रकाश ने अब इलेक्ट्राॅनिक अाइटम की दुकान खाेली है। उन्हाेंने बताया कि जिस तरह से काेराेना के लगातार केस अा रहे हैं, इससे लगता है आने वाले एक साल तक बड़ी शादियां हाेना संभव नहीं है। शुरुआती दिनाें में बिजली उपकर ठीक करने का काम किया। अब इलेक्ट्राॅनिक अाइटम की दुकान शुरू की है।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें