पीडि़ता के बयान तय होगी गिरफ्तारी:शहर के एक दर्जन युवकों के विरुद्ध नाबालिग के साथ दुष्कर्म का मामला

चित्तौड़गढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो।

कोतवाली थाने में रविवार को एक नाबालिग लड़की ने शहर के एक दर्जन युवकों के विरुद्ध उसके साथ अलग-अलग स्थानों पर ले जाकर दुष्कर्म करने का मामला दर्ज करवाया था। इसमें पुलिस दूसरे दिन भी जांच में जुटी रही। इधर, युवकों के परिजनों ने एसपी से भेंट कर निर्दोष युवकों को फंसाने का आरोप लगाते हुए निष्पक्ष जांच की मांग की। उल्लेखनीय है कि पुराने शहर निवासी 15 वर्षीय नाबालिग लड़की ने शनिवार को कोतवाली में उसके साथ पिछले छह माह में शहर के करीब एक दर्जन से अधिक युवकों द्वारा बहला फूसला कर अलग-अलग स्थानों पर ले जाकर दुष्कर्म करने का आरोप लगाते रिपोर्ट दी। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरु की।

पीडि़ता के साथ सहयोग करने वाली एक अन्य महिला को भी पूछताछ के लिए थाने बुलाया गया। वहीं पुलिस ने मामले में करीब आधा दर्जन युवकों को पूछताछ के लिए थाने बुलाया है। लड़की द्वारा कई युवकों के रिपोर्ट में नाम लिखवा देने के बाद उनके परिजन सकते में आ गए। परिजनों का एक ग्रुप सोमवार सुबह एसपी कार्यालय पहुंचा। उनके बेटों को निर्दोष बताते निष्पक्ष जांच की मांग की। पुलिस ने पीडि़ता को बालिका शेल्टर होम भिजवाया है। डिप्टी लाभूराम विश्नोई ने बताया कि मंगलवार को नाबालिग के न्यायालय में बयान होंगे। इधर, जानकारों ने बताया कि न्यायालय में पीडि़ता के बयान होने के बाद आरोपियों की पुलिस गिरफ्तारी कर सकती है।

अज्ञात वाहन की टक्कर से बाइक सवार की मौत
कपासन| अज्ञात वाहन की टक्कर से बाइक सवार व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई। सोशल मीडिया एवं बाइक से मृतक की पहचान हुई। गत रात्रि को कपासन चित्तोड़गढ़ मार्ग पर कांकरिया गांव के पास एक बाइक को अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कपासन सीएचसी की मोर्चरी में रखवाया। सोशल मीडिया एवं बाइक के माध्यम से मृतक की पहचान भादसोड़ा थानान्तर्गत गांव मोखमपुरा निवासी मांगीलाल (35) पुत्र शंकरलाल जटिया के रूप में हुई। सोमवार दोपहर बाद मृतक के परिजनों के आने पर शिनाख्त कराई तथा शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सुपुर्द कर दिया।

सोशल मीडिया एवं बाइक से हुई मृतक की पहचान : मृतक के हाथ पर मांगीलाल गुदा हुआ था इसके अलावा उसकी पहचान सम्बंधित कोई जानकारी नहीं होने पर पुलिस ने सोशल मीडिया पर उसकी शिनाख्त का प्रयास शुरू किया, साथ ही बाइक के नम्बर के आधार पर ऑनलाइन जानकारी ली गई तब ऑनलाइन सर्च करने पर जिस व्यक्ति के नाम पर बाइक थी उसने अन्य व्यक्ति को बाइक बेच देना बताया। उसने ही मृतक की जानकारी दी।

खबरें और भी हैं...