निर्वाचन प्रकिया:जिला परिषद की पांच स्थायी समितियों के अध्यक्ष निर्विरोध; प्रशासन एवं स्थापना समिति में पदेन अध्यक्ष जिला प्रमुख

चित्तौड़गढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिला परिषद की पांच स्थायी समितियों के अध्यक्षों का शनिवार को निर्विरोध निर्वाचन हुआ। पांच स्थायी समितियों प्रशासन एवं स्थापना स्थायी समिति, वित्त एवं कराधान स्थायी समिति, शिक्षा स्थायी समिति, विकास एवं उत्पादन कार्यक्रम स्थायी समिति एवं ग्रामीण जलप्रदाय स्थायी समिति के सदस्यों का निर्विरोध निर्वाचन शुक्रवार को हुआ था।

शनिवार को इन स्थायी समिति के अध्यक्षों का निर्वाचन हुआ। स्थायी समिति के अध्यक्षों के निर्वाचन के लिए शनिवार को प्रत्येक स्थायी समिति के लिए भी एक-एक नामांकन हुए। 1-1 नामांकन होने एवं सभी नामांकन वैद्य हाेने से निर्वाचन निर्विरोध हुआ।

प्रशासन एवं स्थापना समिति में पदेन अध्यक्ष प्रमुख डाॅ सुरेश धाकड़ ही हैं। सदस्य में जिला परिषद सदस्य पार्वती देवी कनेरा, नारायणी देवी आजोलिया का खेड़ा, उपप्रमुख भूपेन्द्र सिंह बडोली माधोसिंह, सुमित्रा मेनारिया महुड़ा काे चुना।

वित्त एवं कराधान स्थायी समिति में अध्यक्ष गब्बरसिंह अहीर माल्याखेड़ी, पुष्पा भील डिंडाेली, डाॅ. ताराचंद मेघवाल निम्बोदड़ा, भंवरलाल बलाई केलजर, बद्रीलाल जाट जगपुरा व गब्बरसिंह चुने गए। शिक्षा स्थायी समिति में अध्यक्ष कैलाशचंद जाट पिपलवास, सदस्य कृष्णा धाकड़ सेमलपुरा, मौसमी देवी जाट मेवदा, अभिषेक जैन बोराव व अनिता देवी भील होड़ा चुने गए।

विकास एवं उत्पादन कार्यक्रम स्थायी समिति में अध्यक्ष हीरीबाई अहीर बिहारीपुरा, सदस्य अमर सिंह हाड़ा दोलपुरा, झीनल लांगच, छोटूलाल मीणा नाल, हीरी बाई अहीर बिहारीपुरा, उर्मिला खटीक डूंगला मनोनीत हुए।

ग्रामीण जलप्रदाय स्थायी समिति में अध्यक्ष बद्रीलाल जाट सिंहपुर, सदस्य बीनू मेघवाल सावा, कैलाशी देवी जाट कानाखेड़ा, शंभूलाल गाडरी धन्ना की भागल, बद्रीलाल जाट सिंहपुर व नरबूलाल भील जवासिया को मनोनीत किया।

खबरें और भी हैं...