साफ-सफाई, रख-रखाव पर मिला सम्मान:रनिंग रूम में बेस्ट फैसिलिटी के लिए चित्तौड़गढ़ स्टेशन को मिला बेस्ट मेंटेनेंस का अवार्ड, उज्जैन को मिला दूसरा स्थान; पुरस्कार के पीछे यात्रियों की भी भागीदारी

चित्तौड़गढ़।3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चित्तौड़गढ़ रेलवे स्टेशन को मिला बेस्ट मेंटेनंस का अवार्ड। - Dainik Bhaskar
चित्तौड़गढ़ रेलवे स्टेशन को मिला बेस्ट मेंटेनंस का अवार्ड।

पश्चिम रेलवे रतलाम मंडल मुख्यालय पर ए श्रेणी के चित्तौडगढ़ स्टेशन को सर्वश्रेष्ठ अनुरक्षित (बेस्ट मेंटेन्टड) अवार्ड देकर सम्मानित किया गया है। चित्तौड़गढ़ को पहला स्थान मिला। डीआरएम विनीत गुप्ता ने स्टेशन प्रबंधक स्टेशन प्रबंधक जीपी गुप्ता को शील्ड दी जबकि उज्जैन को दूसरा स्थान मिला। वहीं चित्तौड़गढ़ स्टेशन ने रनिंग रूम में बेस्ट फैसिलिटी के लिए अवार्ड जीता। सभी ने इस मौके पर शील्ड को माला पहनाई। यह कार्यक्रम 16 अप्रैल को रेलवे सप्ताह समारोह में किया जाना था लेकिन कोरोना के कारण इसे अगस्त महीने में किया गया।

इस दौरान रिटायर्ड स्टेशन प्रबंधक सुभाष पुरोहित, मंडल वाणिज्य निरीक्षक एनके जोशी, स्वास्थ्य निरीक्षक भूपेंद्र कुमार मीणा, स्वास्थ्य निरीक्षक कीर्ति शर्मा, स्टेशन अधीक्षक दिनेश दशोरा, अशोक शर्मा, शिवलाल मीणा, सफाई सुपरवाइजर देवेंद्र मीणा मौजूद थे।

शील्ड को पहनाई माला।
शील्ड को पहनाई माला।

शील्ड को पहनाई गई माला
मंडल रेल प्रबंधक पुरस्कार के तहत उत्कृष्ट सराहनीय कार्य करने वाले कर्मचारियों को पुरस्कृत किया जाता है। इसके तहत मंडल के सभी स्टेशनों में से ए श्रेणी के चित्तौडगढ स्टेशन को साफ सफाई में उत्कृष्ट मानते हुए सर्वश्रेष्ठ अनुरक्षित अवार्ड दिया गया। इसके साथ ही ड्राइवर गार्ड को रनिंग रूम में बेस्ट फैसिलिटी देने के लिए रनिंग शील्ड प्रन की गई।

तीन शिफ्ट में चलता है सफाई कार्य

सफाई ठेका सुपरवाइजर संजय सैनी ने बताया कि स्टेशन के पांचों प्लेटफार्म परिसर की सफाई के लिए 24 घंटे तीन शिफ्ट में 21 कर्मचारी कार्य करते हैं। सुबह की पारी सुबह 6 से दोपहर 2 बजे में 11 कर्मचारी रेलवे ट्रैक की प्रेशर मशीन, प्लेटफार्म तीन स्क्राइबर मशीन, हाई पॉवर जेट मशीन, वैक्यूम कलीनर, हैंड स्क्राइबर मशीन से प्लेटफार्म की सफाई की जाती है।

इसी तरह दोपहर दो बजे दूसरी शिफ्ट के 8 कर्मचारियों द्वारा रेलवे यार्ड सहित सभी प्लेटफार्म की सफाई की जाती है। रात 10 बजे तीसरी शिफ्ट में 2 कर्मचारी तैनात रहते हैं जो यात्री प्रतीक्षालय, स्टेशन के बाहर प्लेटफार्म की सफाई में जुटे रहते हैं। सैनी ने कहा कि कर्मचारियों की कड़ी मेहनत ईमानदारी पूर्वक कार्य का निर्वहन करने से यह अवार्ड मिला है।

यात्रियों ने भी की मदद

स्टेशन पर साफ-सफाई सुंदरता हमेशा बनी रहती है। इसके लिए यात्रियों स्टेशन पर आने वाले लोगों का सहयोग सराहनीय है। स्टेशन परिसर धूम्रपान मुक्त हो चुका है। ट्रेन सहित स्टेशन पर धूम्रपान नहीं किया जाता। इसके लिए ट्रेन पहुंचने के बाद स्टाफ द्वारा भी चैकिंग की जाती है। ट्रेन पहुंचने के बाद स्टेशन पर यात्री द्वारा किसी तरह की गंदगी नहीं की जाए इसका भी ध्यान रखा जाता है। अगर कोई इस नियम का उल्ल्घंन करता है तो रेलवे के नियमानुसार उस पर कार्रवाई कर जुर्माना वसूला जाता है।

खबरें और भी हैं...