चित्तौड़गढ़ में कोरोना का कहर:जिले में फूटा कोरोना बम, शहर में आये 119 मामले, जिले में कुल मामले 402; सुखवाडा गांव के एक हिस्से को जीरो मोबिलिटी क्षेत्र किया घोषित

चित्तौड़गढ़7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डैमो पिक। - Dainik Bhaskar
डैमो पिक।

चित्तौड़गढ़। कोरोना की दूसरी लहर से जिले में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। चित्तौड़गढ़ में रोज रिकॉर्ड मामले आ रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार गुरुवार को जिले में चार सौ से ज्यादा मामले सामने आए हैं।

शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में एक बार फिर कोरोना संक्रमण ने चार का आंकड़ा पार करते हुए कोरोना बम फटा है। एक साथ 402 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। सीएमएचओ की रिपोर्ट के अनुसार जिले में सबसे अधिक चित्तौड़गढ़ शहर में कोरोना पॉजिटिव पाए गए।

चित्तौडगढ शहर में कुम्भानगर, गांधीनगर कच्ची बस्ती, चन्देरिया, प्रतापनगर, रामनगर, नगरपालिका कोलोनी, अरिहन्त नगर, बापूनगर, पंचवटी, छीपामोहल्ला इलाको में 119 मामले पाए गए। इसके अलावा चित्तौड़गढ़ ग्रामीण में 8, बडीसादडी मेंं 4, बेगूं के पारसेाली, महेसरा, वार्ड न 7, 1, 16, 18, 22, 12, 23 मोतीपुरा में कुल 45, भूपालसागर के आकोला में 15, भदेसर के जवानपुरा, बानसेन, देलवास, आक्या में 32,

डुंगला में 12, गंगरार के आजेलिया का खेडा, चैगावडी, जीतीयास, विश्राम कोटी में 8, कपासन में 23, निम्बाहेडा शान्तिनगर, आर एम नगर, बाडी, उखलिया में 62, राशमी के जालमपुरा, मरमी, डिन्डोली, चटावटी में 42, रावतभाटा में 32 मामले आये।

भदेसर एसडीम ने सुखवाडा गांव के एक हिस्से को जीरो मोबिलिटी क्षेत्र किया घोषित

भदेसर एसडीम अंजू शर्मा ने धारा 144 के अंतर्गत उपखंड के सुखवाडा गांव में कोरोना के बढ़ते संक्रमण हो देखते हुए गांव के चारभुजा जी मंदिर से नीम का चबूतरा क्षेत्र तक के सम्पूर्ण क्षेत्र को जीरो मोबिलिटी क्षेत्र घोषित किया है। इस क्षेत्र में जनसाधारण का आवागमन पूरी तरह बंद रहेगा। किसी भी व्यक्ति द्वारा नियमों का उल्लंघन किये जाने पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...