पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bhilwara
  • Chittorgarh
  • During The Construction Of The Temple, The Excavation Was Done With JCB, When The Situation Is Fine, JCB Made Of Silver Climbed To Sreesanwalia Ji, There Is A System Of Lights On The Driver's Seat

सांवलिया सेठ को चांदी की JCB भेंट:177 ग्राम की जेसीबी में ड्राइवर सीट पर है लाइट का सिस्टम, बिजनेस में लाभ के लिए मांगी थी मनोकामना

चित्तौड़गढ़9 दिन पहले
श्री सांवलिया जी को भेंट की गई चांदी की जेसीबी।

मेवाड़ के कृष्ण धाम श्रीसांवलिया जी मंदिर के में एक भक्त ने चांदी से बनी 177 ग्राम की जेसीबी भेंट की है। जेसीबी में लाइटिंग सिस्टम भी लगा है। भक्त ने बिजनेस में लाभ होने पर चांदी की जेसीबी भेंट करने का मन बनाया था। मनोकामना पूरी होने पर भक्त अपनी क्षमता अनुसार सेठ को भेंट देते हैं। दो दिन पहले ही प्रतापगढ़ निवासी एक भक्त ने 158 ग्राम चांदी से निर्मित जीप भेंट की। कुछ दिन पहले जयपुर के एक भक्त ने 735 ग्राम चांदी से निर्मित घड़ा भेंट किया था।

भेंट में की गई जीप।
भेंट में की गई जीप।

अच्छे दिनों के लिए मांगी मनोकामना
मंडफिया के समीप भदेसर उपखण्ड निवासी एक भक्त जेसीबी का व्यवसाय करता है। भक्त ने श्रीसांवलिया जी से व्यवसाय में लाभ के लिए प्रार्थना की थी। भक्त ने बताया कि उसने सोचा था, जब भी थोड़े अच्छे दिन आएंगे, वह सांवरा सेठ को चांदी से बनी 177 ग्राम की जेसीबी भेंट करेगा। दो साल लॉकडाउन के कारण भेंट नहीं कर पाया। अब चांदी से बनी 177 ग्राम की जेसीबी भेंट की।

ड्राइवर सीट के पास लगवाई लाइट
जेसीबी में अंदर की ओर स्टेयरिंग बनाई गई है और ड्राइवर सीट के आसपास पूरी कांच की पैकिंग की गई है। लाइटिंग सिस्टम भी रखा है, जो छोटी-छोटी सेल पर ऑन होती है। यह जेसीबी दिखने में काफी अनोखा है।

भेंट में दिया घड़ा।
भेंट में दिया घड़ा।
खबरें और भी हैं...