पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पदभार ग्रहण:विकास के लिए प्रत्येक जिला परिषद सदस्य का सालाना 10 लाख का कोटा तय करेंगे

चित्तौड़गढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिला प्रमुख डाॅ. सुरेश धाकड़ ने चुनाव के 42वें दिन कार्यभार ग्रहण किया, विकास पर रहेगा फोकस

नए जिला प्रमुख डाॅ. सुरेश धाकड़ ने कहा कि जिला परिषद अब बरसों की परिपाटी अनुसार नहीं बल्कि सुझावों के आधार पर काम करते हुए ग्रामीण विकास कराएगी। प्रत्येक जिला परिषद वार्ड में सालाना 10 लाख रुपए के विकास कार्य संबंधित सदस्य की अनुशंसा पर कराए जाएंगे। एमपी-एमएलए कोटे की तर्ज पर चित्तौड़गढ़ जिले से यह नवाचार अमल में आएगा।

विकास व समस्या समाधान संबंधी प्रस्ताव और फाइलों को लाल बस्ते में डाल देने की परिपाटी अब नहीं चलेगी। धाकड़ ने गुरुवार को पदभार के बाद इंदिरा प्रियदर्शनी ओडिटोरियम में समारोह में कहा कि ग्रामीण जनता ने कांग्रेस सरकार की नीतियों के खिलाफ ऐतिहासिक जनादेश दिया।

अब हमारी जिम्मेदारी है अपेक्षाओं पर खरा उतरने की। जिला प्रमुख ने कहा कि जिस तरह सांसद, विधायकों के लिए विकास कार्य करवाने का कोष होता है, उसी तरह जिप सदस्य का भी कोटा होना चाहिए। हजारों मतदाताओं को साध कर आने वाले इन सदस्यों से क्षेत्रवासी पगडी, साफा बंधवाकर एक हैंडपंप लगाने का भी आग्रह कर दे तो उसे कहना पडता है कि वह प्रमुख साहब से पूछेंगे।

इसलिए परिषद की पहली बोर्ड बैठक में ही जिला परिषद सदस्य के लिए सालाना दस लाख के विकास कोटे का प्रस्ताव लिया जाएगा। चित्तौडगढ जिला परिषद नवाचार के साथ ईमानदारी के लिए पहचानी जाएं। यह प्रयास रहेगा। इससे पूर्व संक्षिप्त उदबोधन में पूर्व मंत्री श्रीचंद कृपलानी ने कहा कि जिप में इस बार प्रचंड बहुमत कार्यकर्ताओं की मेहनत और भाजपा के प्रति आमजन के विश्वास का उदाहरण है।

अब सब मिलकर धाकड के हाथ मजबूत करेंगे। संचालन पीयूष काबरा व भाजपा जिला महामंत्री कमलेश पुरोहित ने किया। आभार उप जिला प्रमुख भूपेंद्रसिंह बडोली ने जताया। विधायक चित्तौड़गढ़ चंद्रभानसिंह आक्या, कपासन के अर्जुनलाल जीनगर, जिलाध्यक्ष पूर्व विधायक गौतम दक, पूर्व विधायक अशोक नवलखा व छगनलाल शिशोदिया, पूर्व जिलाध्यक्ष रतनलाल गाडरी, डेयरी चेयरमैन बद्रीलाल जाट, पूर्व जिला प्रमुख भैरूसिंह चौहान, पंडित दीनदयाल उपाध्याय मंच प्रदेशाध्यक्ष सुरेश झंवर, निम्बाहेडा प्रधान बगदीराम धाकड, पूर्व उपप्रमुख मिठूलाल जाट, उपप्रमुख भूपेंद्रसिंह बडोली, कमलेश पुरोहित, सोहनलाल आंजना, तेजपाल रैगर आदि मंचासीन थे।

कार्यक्रम में भाजपा के अन्य प्रधान, जिप सदस्य, उपप्रधान, मंडल अध्यक्ष सहित पदाधिकारी, कार्यकर्ता मौजूद रहे। कार्यक्रम में विधायक गजेंद्रसिंह शक्तावत व पूर्व मंत्री किरण माहेश्वरी के निधन पर श्रद्वांजलि दी गई। इससे पहले धाकड दोपहर सवा बारह बजे जिला परिषद में श्रीचंद कृपलानी, भैरूसिंह चौहान, गौतम दक, रतन गाडरी, डेयरी चेयरमैन बद्री जाट आदि की मौजूदगी में अपनी कुर्सी पर बैठे। पंडित अशोक के निर्देशन में पूजा अर्चना हुई। स्टाफ के साथ धाकड महासभा पदाधिकारियों ने भी स्वागत किया।

सरकारी मशीनरी को अब सक्रिय होना पड़ेगा
मीडिया से चर्चा में धाकड ने इतने दिनों बाद पदभार के सवाल पर कहा कि एक माह तक पंचायतराज एक्ट और कानून की किताबें पढी। ये जाना कि अधिकारी कार्य नहीं करे तो कैसे कराया जाएं। धाकड ने कार्यक्रम में भी कहा कि सरकारी मशीनरी को एक्टिव होना पडेगा। विकास के कागज या फाइलें कचरे के ढेर में चली जाती है। अब ऐसा नहीं होगा।
इशारों में कहा, अब समझ ले कि कुछ अधिकार हमारे भी है...
धाकड ने प्रदेश में सत्ता दबाव को इंगित करते हुए कहा कि बेगूं विस क्षेत्र में पंचायत सचिवों को निलंबित कर फाइलें मंगवाने का कार्य हो रहा है। ऐसा करने वाले ये भी समझ ले कि कुछ अधिकार अब हमारे भी है। आपके लोगों को भी हमारे पास आना पडेगा। हालांकि वह सकारात्मक सोच वाले व्यक्ति है। सबका साथ सबका विकास ही ध्येय है.
मेरी मां तो अभी भी नहीं जानती है कि जिला प्रमुख क्या होता है..
जिला प्रमुख डा सुरेश धाकड ने कहा कि मैं मात्र 25 घरों की आबादी वाले गांव का हूं। बचपन में आरएसएस से जुड़ गया था। शहर में पढने आया तो मनोज शर्मा ने एबीवीपी से जोडा। मेरी मां आज भी नहीं जानती है कि जिला प्रमुख क्या होता है। यह भाजपा ही है जिसने मुझे छात्रसंघ अध्यक्ष, एबीवीपी संयोजक, विधायक, जिलाध्यक्ष और अब जिला प्रमुख जैसा पद दिया।

शोक के कारण प्रदेशाध्यक्ष पुनिया और नेता प्रतिपक्ष कटारिया नहीं आए, संक्षिप्त किया समारोह
भाजपा ने जिला प्रमुख पदभार समारोह को भव्य बनाने की पूरी कोशिश की थी। बतौर प्रमुख अतिथि व वक्ता प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया व विस में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया का आना तय था।

एक दिन पहले वल्लभनगर के कांग्रेस विधायक गजेंद्रसिंह शक्तावत के निधन और इससे पूर्व वागड के लोगों के साथ दुखान्तिका के चलते पूनिया व कटारिया ने एनवक्त पर दौरा निरस्त कर दिया। समारोह को भी सादगीपूर्वक व संक्षिप्त कर दिया गया। न ढोल बजाए गए और न मंच पर कोई स्वागत सत्कार हुआ। धाकड से पहले सिर्फ पूर्व मंत्री कृपलानी का ही संक्षिप्त उदबोधन कराया गया। हालांकि जिलेभर से जनप्रतिनिधि, व कार्यकर्ता पहुंच गए थे।

चुनाव में जिलाध्यक्ष ने जोरदार बेटिंग की, अब पूर्व जिला प्रमुखों से भी कामकाज सीखूंगा: धाकड़
धाकड ने पंचायतराज चुनाव में भाजपा की ऐतिहासिक जीत के लिए जिलाध्यक्ष गौतम दक का विशेष जिक्र करते हुए कहा कि दक ने जोरदार बेटिंग की। हर कार्यकर्ता की सुनी। पहली बार 25 में से 21 सीटें जीती। अधिकांश पंस में प्रधान बने। हमें ऐसा ही जिलाध्यक्ष चाहिएं। धाकड ने पूर्व जिला प्रमुख रहे श्रीचंद कृपलानी, भैरूसिंह चौहान, छगनलाल शिशोदिया, सुशीला जीनगर आदि का जिक्र करते हुए कहा कि मुझे इन सबसे सीखने को और मिलेगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

    और पढ़ें