पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

खेती:आज से मुखिया को साैपेंगे अफीम खेती के लिए किसानों के पट्टे, 10 नवंबर तक हाेगा वितरण, बुआई की तैयारी

चित्तौड़गढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • केंद्रीय नारकोटिक्स कार्यालय ने तैयार किया पट्टा वितरण कार्यक्रम, हर डिवीजन करेगा 400 किसानों के पट्टे जारी

अफीम नीति जारी होने के 6 दिन बाद अब केंद्रीय नारकोटिक्स विभाग मंगलवार से पात्र किसानों को अफीम के पट्टे वितरण शुरू करेगा। मुखिया के माध्यम से संबंधित गांव के किसानों के पट्टे पहुंचेंगे। पट्टा वितरण कार्य 10 नवंबर तक चलेगा।

केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने 22 अक्टूबर को अफीम नीति वर्ष 2020-21 के लिए जारी की थी। इसके बाद डीएनसी कोटा विकास जोशी ने वर्चुअल बैठक कर जिला अफीम अधिकारियों को 27 अक्टूबर से पट्टा वितरण शुरू कर आवश्यक निर्देश दे दिए थे। खंड प्रथम के जिला अफीम अधिकारी जगदीश मावल, खंड द्वितीय के पी सुरेश व खंड तृतीय के जेपी चौधरी के निर्देशन में तैयारियां की गई।

मंगलवार सुबह 8 बजे से तीनों ही खंडों के अधीन आने वाली तहसीलों के किसानों के लिए पट्टा वितरण प्रक्रिया शुरू होगी। औसत अधिक देने वाले मुखियाओं का भी चयन करने के लिए बुलाया है। उन्हें संबंधित गांवों के पात्र किसानों के पट्टे भी दे दिए जाएंगे। ये मुखिया अपने गांवाें में किसानों को पट्टा देंगे। किसानों ने खेतों में बुआई की तैयारी कर रखी है।

खंड प्रथम के अधीन पट्टा वितरण प्रक्रिया नौ व खंड तृतीय के अधीन वाली तहसीलों में पट्टा वितरण दस नवंबर तक होगा। चित्तौड़गढ़ में संचालित तीनों खंडों के अलावा भीलवाड़ा खंड के अधीन आने वाले बेगूं व रावतभाटा क्षेत्र के 19 हजार 700 से अधिक किसानों को इस बार पट्टे मिल रहे हैं।

माना जा रहा है कि प्रत्येक खंड प्रतिदिन 20 से 25 मुखियाओं के माध्यम से डेढ़ हजार किसानों के पट्टे वितरित करवाएगी। औसत एक खंड की ओर से 400 किसानों के पट्टे जारी किए जाएंगे। उल्लेखनीय है कि इस बार कोरोना काल को देखते हुए केंद्र सरकार ने मार्फिन के प्रतिशत में बढ़ावा नहीं किया है। इसके चलते मात्र 100 किसान ही ऐसे सामने आ रहे हैं जिनके पट्टे कट रहे हैं।

मुखियाओं के लिए कार्यालय में टेंट लगाए, स्क्रीनिंग करेंगे
हर बार जिला अफीम अधिकारी अपने कार्यालय में ही पट्टा वितरण करते हैं। इस बार ऑफिस की बजाय खुले स्थान पर पट्टा वितरण की तैयारी की है। तीनों खंड प्रथम, द्वितीय व तृतीय की ओर से भीलवाड़ा मार्ग स्थित नारकोटिक्स कार्यालय में मुखियाओं को पट्टा वितरण के लिए टेंट शामियाने लगाए हैं। पेयजल व पंखों की व्यवस्था की है। मुखियाओं के नारकोटिक्स कार्यालय पहुंचने पर उनकी थर्मल स्क्रीनिंग कर सेनेटाइज कर पट्टे दिए जाएंगे। मास्क की अनिवार्यता रहेगी।

तीन स्लैब में 6,10 व 12 आरी के पट्टे दिए जा रहे
इस बार की नीति के अनुसार अफीम उत्पादक किसान रहे जिनकी मृत्यु हो गई है। उनके परिजनों को भी पट्टे दिए जा रहे हैं। ऐसे में तोल से पहले जिस किसान की मृत्यु हुई, उसे औसत के अनुसार पट्टे मिलेंगे। जिसकी तोल के बाद मौत हुई, उस किसान के परिजन को पांच आरी का पट्टा मिलेगा। गौरतलब है कि मार्फिन का मानक प्रतिशत 4.2 किलाे प्रति हैक्टेयर रखा है। जो गत साल कम होने के बाद भी 4.5 किलो प्रति हैक्टयर था। इस बार भी तीन स्लैब में 6,10 व 12 आरी के पट्टे दिए जा रहे हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- यह समय विवेक और चतुराई से काम लेने का है। आपके पिछले कुछ समय से रुके हुए व अटके हुए काम पूरे होंगे। संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी समस्या का भी समाधान निकलेगा। अगर कोई वाहन खरीदने क...

और पढ़ें