अवैध बालवाहिनी पर कार्रवाई अभियान:अधिकारियों व कर्मचारियों ने लापरवाही की ताे गिरेगी गाज

चित्ताैड़गढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • परिवहन एवं सड़क सुरक्षा विभाग की ओर से 20 से चलेगा विशेष जांच अभियान

परिवहन विभाग अवैध बालवाहिनाें के खिलाफ कार्रवाई के प्रति और सख्त हाे गया है। अभियान में जिम्मेदार अधिकारियाें एवं कार्मिकाें ने लापरवाही बरती ताे उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। परिवहन विभाग 20 अक्टूबर से अभियान चलेगा।

जिले सहित प्रदेश में अनाधिकृत व नियमों के विरूद्ध संचालित बाल वाहिनियों पर सख्त कार्रवाई होगी। प्रदेश सहित जिले में भी यह अभियान 30 अक्टूबर तक चलेगा। परिवहन आयुक्त महेंद्र सोनी ने सभी आरटीओ एवं डीटीओ काे अभियान के संबंध में निर्देश भी जारी कर दिए है।

आरटीओ जेपी बैरवा ने बताया कि बाल वाहिनी श्रेणी के वाहनों के अनाधिकृत/नियम विरूद्ध संचालन पर नियंत्रण के लिए अभियान चलेगा। प्रदेश के सभी आरटीओ व डीटीओ को अभियान के लिए निर्देश जारी किए हैं। अधिनियम 1988 के प्रावधानों में होगी कार्रवाई, जिले में 650 स्कूल, पर 400 वाहन पंजीकृत...कार्रवाई मोटर वाहन अधिनियम 1988 के प्रावधानों के तहत होगी।

बालवाहिनियाें के आकड़ाें पर गाैर गरने पर पाया कि जिले में करीब 650 निजी स्कूल हैं।औसतन प्रति प्राइवेट स्कूल के बच्चाें काे घर से स्कूल एवं स्कूल से घर के लिए औसतन दाे से पांच वाहन काम आते हैं, लेकिन जिले में महज 400 बालवाहिनियां ही पंजीकृत है।

खबरें और भी हैं...