पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ट्रेप मामला:बड़ीसादड़ी पालिकाध्यक्ष के खिलाफ ट्रेप कार्रवाई में मकान की तलाशी में मिले थे पिस्तौल और कारतूस, लाइसेंस नहीं देने पर घर पर लगाया नोटिस

चित्तौड़गढ़4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पालिकाध्यक्ष निर्मल पितलिया के निवास  पर नोटिस। - Dainik Bhaskar
पालिकाध्यक्ष निर्मल पितलिया के निवास पर नोटिस।

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो उदयपुर की टीम की ओर से 2 दिन पूर्व बड़ीसादड़ी पालिकाध्यक्ष के साले को 2 लाख की रिश्वत के मामले में गिरफ्तार करने के बाद पालिकाध्यक्ष के मकान पर तलाशी ली थी। इसमें घर से एक पिस्तौल व दो जिंदा कारतूस मिले थे। इस दौरान परिजनों ने इसे लाइसेंसी होना बताया। लेकिन इसका लाइसेंस थाने पर पेश नहीं किया। ऐसे में बड़ीसादड़ी थाना पुलिस ने गुरुवार को सभापति के घर के बाहर नोटिस चस्पा किया है, जिसमें पिस्तौल का लाइसेंस पेश करने के निर्देश दिए।

जानकारी के अनुसार एसीबी उदयपुर में विष्णुदत्त शर्मा ने रिपोर्ट दी थी। इसकी रिपोर्ट पर एससीबी ने 25 मई बड़ीसादड़ी नगरपालिका अध्यक्ष निर्मल पितलिया के साले कुश शर्मा को 2 लाख रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया था। वहीं निर्मल पितलिया को नामजद कर लिया था। बाद में टीम सभापति के घर पहुंची और तलाशी ली। इसमें घर से एक पिस्तौल व दो कारतूस मिले, जिन्हें जप्त कर लिया।

पिस्तौल के वैद्य लाइसेंस के संबंध में पालिकाध्यक्ष की पत्नी भावना देवी से जानकारी ली तो उन्होंने पिस्टल लाइसेंसी होना बताया। लेकिन उसकी प्रति पेश नहीं की। इस संबंध में जब्त की गई पिस्तौल की प्रति थाने पर पेश करने को कहा था। लेकिन गुरुवार तक लाइसेंस की प्रति पेश नहीं हुई। ऐसे में बड़ीसादड़ी थाना पुलिस की ओर से निर्मल पितलिया के मकान के बाहर एक नोटिस चस्पा किया है। इस नोटिस में बताया कि जप्त की गई पिस्तौल की जांच के बाद रिकॉर्ड भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो उदयपुर को अविलंब पेश की जानी है। इस हथियार का आरोपी या उसके परिजनों के नाम पर कोई आर्म्स लाइसेंस हो तो उसकी प्रति उपलब्ध करवाएं। इससे जांच पूर्ण कर भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो उदयपुर में प्रेषित की जा सके।

खबरें और भी हैं...