पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

प्रतिबंध:नवरात्र में जोगणियां माता में नहीं लगेगा मेला, प्रसाद- शृंगार सामग्री पर प्रतिबंध

चित्ताैड़गढ़3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

चैत्र नवरात्र महोत्सव पर जोगणियां माता में इस बार मेला, स्टेज प्रोग्राम और कोई बड़ा आयोजन नहीं होगा। मंदिर में श्रद्धालुओं के प्रसाद और शृंगार सामग्री ले जाने पर पाबंदी लगा दी। मास्क लगाकर श्रद्धालु मंदिर में दर्शन करेंगे। बिना मास्क मंदिर में प्रवेश निषेध रहेगा।

जोगणियां माता में चैत्र नवरात्र महोत्सव को लेकर शक्तिपीठ विकास संस्थान और पुलिस, प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक में कोरोना बचाव और गाइड लाइन की पालना के लिए अहम निर्णय लिए हैं।

तहसीलदार गोपाल बंजारा, रेवेन्यू इंस्पेक्टर किशोर सिंधी, चाैकी प्रभारी राधेश्याम, शक्तिपीठ संस्थान के कार्यवाहक अध्यक्ष सत्यनारायण जोशी, उपाध्यक्ष सूरजमल मीणा, लाल सिंह परिहार, रामसिंह, रमेश गुर्जर, बालूराम सुथार, प्रेमचंद धाकड़, शांतिलाल, शंकर लाल आदि पदाधिकारी मौजूद रहे।

बैठक में निर्णय लिया कि नवरात्र घटस्थापना पर ध्वजारोहण होगा। शतचंडी यज्ञ और गायत्री पाठ सोशल डिस्टेंस और गाइडलाइन की पालना के साथ होंगे। मंदिर में दर्शन के लिए जाने वाले श्रद्धालु प्रसाद और शृंगार सामग्री नहीं लेजाएंगे। इस पर पूरी तरह प्रतिबंध रहेगा। दुकानदारों को भी इसके लिए चर्चा की गई। मंदिर में बिना मास्क प्रवेश निषेध रहेगा।

नवरात्र के दौरान जोगणियां माता में कोई बड़ा स्टेज कार्यक्रम नहीं होगा। यदि कोई व्यक्ति सरकार की गाइड लाइन की पालना नहीं करेगा तो नियमानुसार कार्रवाई होगी।

संस्थान के कार्यवाहक अध्यक्ष सत्यनारायण जोशी ने बताया कि प्रसाद और श्रृंगार सामग्री पर प्रतिबंध के पीछे उद्देश्य यह है कि प्रसाद, श्रृंगार सामग्री चढ़ाने को लेकर मंदिर में भीड़भाड़ नहीं हो, कोरोना संक्रमण से पूरी तरह बचाव हो। सेनेटाइजर, सोशल डिस्टेंस बनाने रखने को लेकर संस्थान की ओर से पूरी व्यवस्था रहेगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने काम को नया रूप देने के लिए ज्यादा रचनात्मक तरीके अपनाएंगे। इस समय शारीरिक रूप से भी स्वयं को बिल्कुल तंदुरुस्त महसूस करेंगे। अपने प्रियजनों की मुश्किल समय में उनकी मदद करना आपको सुखकर...

    और पढ़ें