सांवरा सेठ के मंदिर में लुटाए मालपुए:अन्नकूट पर 700 किलो मालपुए बनाकर लगाया भोग,दूर-दूर से दर्शन करने आए श्रद्धालु

चित्तौड़गढ़21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अन्नकूट के दिन प्रसादी ग्रहण करने और सांवरा सेठ के दर्शन करने भक्तों की लगी भीड़। - Dainik Bhaskar
अन्नकूट के दिन प्रसादी ग्रहण करने और सांवरा सेठ के दर्शन करने भक्तों की लगी भीड़।

मेवाड़ के कृष्णधाम श्री सांवलियाजी मंदिर में अन्नकूट के दिन मालपुए लुटाने की अनोखी परंपरा बरसों से होती है। शनिवार सुबह 5 बजे तक प्रसादी लेने वालों की भीड़ लगी रही। मंदिर के बाद गांव में मालपुए लुटाए गए।

6 क्विंटल मालपुए गांव में जाकर लुटाए
जिले के मंडफिया स्थित सुविख्यात श्रीसांवलिया जी मंदिर में अन्नकूट हुआ। दीपावली के बाद गुजरात से काफी संख्या में श्रद्धालु नाथद्वारा और सांवरा सेठ के दर्शन के लिए आते हैं। मालपुए की लूट में गुजराती और मध्य प्रदेश से आए लोगों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। मंदिर मंडल की ओर से 700 किलो मालपुए बनाए गए थे। जिसके पास मंदिर में ही 1 क्विंटल मालपुए लुटाए गए। जबकि 6 क्विंटल मालपुए गांव में जाकर लुटाए गए।

श्रद्धालुओं से भरा मंदिर परिसर
मंदिर में शुक्रवार शाम गोवर्धन पूजा के बाद 7 क्विंटल मालपुए बनाए गए थे। आरती के बाद सांवरा सेठ को भोग लगाया गया। उसके बाद रात 12 बजे मंदिर मंडल ने मालपुए लुटाए। ग्रामीणों के साथ-साथ बाहर से आए हुए श्रद्धालुओं की होड़ मच गई। श्रद्धालुओं से मंदिर परिसर खचाखच भर गया। ओसरा पुजारी ने मंदिर मंडल के अधिकारियों और पुलिस की मौजूदगी में मालपुए लुटाए।

श्री सांवलियाजी में अन्नकूट के दिन मालपुआ लुटाने की होती है परंपरा।
श्री सांवलियाजी में अन्नकूट के दिन मालपुआ लुटाने की होती है परंपरा।
खबरें और भी हैं...