• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Chittorgarh
  • Mother And Son Woke Up Together, Told The Children Late At Night That Both Of Them Are No Longer In This World, There Was An Accident While Going To Visit Jyotirlinga

हादसे में 3 की मौत:एक साथ उठी मां और बेटे की अर्थी, बच्चों को देर रात बताया की दोनों अब इस दुनिया में नहीं रहे, ज्योतिर्लिंग के दर्शन करने जाते समय हुई थी दुर्घटना

चित्तौड़गढ़एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
दुर्घटना में क्षितग्रस्त वैन। - Dainik Bhaskar
दुर्घटना में क्षितग्रस्त वैन।

निंबाहेड़ा से ओंकारेश्वर जा रही एक वैन के सड़क हादसे में पलट जाने और तीन की मौत के बाद अब तीनों का अंतिम संस्कार कर दिया गया है। दुर्घटना में मरे मां और बेटे की एक साथ अर्थी उठी तो लोग चीख चीख कर रो पड़े। गांव में सन्नाटा छा गया। उनके बच्चों को भी देर रात बताया गया कि परिवार में दो की मौत हो गई।

जिले के समीपवर्ती राज्य मध्यप्रदेश के धार जिले में निम्बाहेड़ा से ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग मन्दिर दर्शन के लिए वैन से से जा रहे थे। चालक को झपकी लगने से गाड़ी अनियंत्रित होकर पलट गई। हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई और 9 लोग घायल हो गए। मृतकों में चित्तौड़गढ़ के एक ही परिवार से दो जने शामिल है। घायलों को बदनावर के सिविल अस्पताल लाया गया था। वहीं गंभीर घायलों को रतलाम के मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया था।

हादसे में पिपलिया मंडी निवासी किशोर (45) पुत्र भंवरलाल,निंबाहेड़ा निवासी कमल (12) पुत्र कन्हैयालाल और निंबाहेड़ा निवासी रामकन्या (40) पत्नी कन्हैया लाल धाकड़ की मौत हो गई थी। रामकन्या कमल और रामकन्या दोनों मां-बेटे थे। इसमें एक बाइक सवार के चपेट में आने की बात सामने आ रही है। घायलों में निंबाहेड़ा निवासी अनु (17) पिता गिरधारी लाल, गुड्डी (40) बाई पत्नी कैलाश चंद्र, कौशल्या (45) पत्नी किशोर को रेफर कर दिया गया। सामान्य घायलों निंबाहेड़ा निवासी लक्ष्मण (21) पुत्र बगदीराम, पुष्कर (20) पुत्र कैलाश चंद्र, नीलम (15) पुत्र कन्हैयालाल, विशाल (17 )पुत्र कैलाश, शुभम (17) पुत्र कन्हैयालाल, सलोनी (8) पुत्री मनीष हैं।

खबरें और भी हैं...