“स्वदेश दर्शन”:सांसद जोशी ने लोकसभा में राजस्थान में केंद्र सरकार की ओर से पर्यटन क्षेत्र में किए गए कार्यों से संबंधी प्रश्न पूछा

चित्तौड़गढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सांसद सीपी जोशी ने साेमवार काे लोकसभा में प्रश्नकाल के दौरान अतारांकित प्रश्न के माध्यम से केंद्रीय पर्यटन मंत्री से राजस्थान में पर्यटन के विकास के लिए केंद्र सरकार द्वारा जारी राशि और किए गए कार्यों के संबंध में प्रश्न किया। इसके जवाब में केंद्रीय पर्यटन मंत्री जी. किशन रेड्डी ने सदन को वर्णित किया कि पर्यटन मंत्रालय “स्वदेश दर्शन”, “तीर्थयात्रा जीर्णोद्धार और आध्यात्मिक, विरासत संवर्धन अभियान (प्रसाद) पर राष्ट्रीय मिशन” और “पर्यटन अवसंरचना के विकास के लिए केंद्रीय एजेंसियों को सहायता” योजनाओं के तहत राजस्थान सहित देश में पर्यटन अवसंरचना विकास के लिए राज्य सरकारों/संघ शासित क्षेत्र प्रशासन/केंद्रीय एजेंसियों को उनके परामर्श से वित्तीय सहायता प्रदान कर रहा है। इन योजनाओं के तहत विगत वर्षों के दौरान राजस्थान में डेजर्ट परिपथ के तहत सांभर लेक टाउन और अन्य स्थलों के विकास के लिए 50.01 करोड़ रुपए, कृष्णा परिपथ के तहत गोविंद देव जी मंदिर (जयपुर), खाटूश्यामजी (सीकर) और नाथद्वारा (राजसमंद) के एकीकृत विकास के लिए 75.80 करोड़ रुपये, आध्यात्मिक परिपथ के तहत चूरू में सालासर बालाजी, जयपुर में श्री समोदे बालाजी, घाटके बालाजी, अलवर में पांडुपोल हनुमानजी, भरतहारी, विराटनगर में बीजक, जैनसिया, अंबिका मंदिर, भरतपुर में कमान क्षेत्र और धौलपुर में मुचकुंड, श्रीसांवलियाजी मन्दिर चित्तौडग़ढ़ के विकास के लिए 93.90 करोड़ रुपये स्वीकृत किए गए हैं।

खबरें और भी हैं...