पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सांप्रदायिक सौहार्द:मुस्लिम समाज ने कब्रिस्तान के सूखे पेड़ों की लकड़ियां श्मशान में दी

चित्तौड़गढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कपासन. नगर के कब्रिस्तान से सूखी लकड़ियां काटकर श्मशान के लिए भेजते हुए। - Dainik Bhaskar
कपासन. नगर के कब्रिस्तान से सूखी लकड़ियां काटकर श्मशान के लिए भेजते हुए।
  • कोरोना से मौतें बढ़ने से कपासन के श्मशान में लकड़ियों की कमी पर पांच ट्रॉली लकड़ियां भेजी, अब और भेजेंगे

काेराेनाकाल में सांप्रदायिक साैहार्द और भाईचारा भी देखने को मिल रहा है। पीड़ितों के लिए समाज व संगठन आगे आ रहे हैं। ऐसा ही एक उदाहरण मुस्लिम समाज ने पेश किया है। श्मशान में लकड़ियों की कमी आई तो कब्रिस्तान के सूखे पेड़ों को काटकर श्मशान में लकड़ियां भेजना शुरू कर दिया। करीब 5 ट्रैक्टर-ट्रॉली लकड़ियां श्मशान भेजी। आगे भी लकड़ियां भेजी जाएगी।

नगर में स्टेशन मार्ग स्थित कबिस्तान में मुस्लिम समाज पार्क बनाकर पौधे लगा रहा है। कब्रिस्तान में सूखे पेड़ों को काटकर सफाई करवाई गई। कोरोनाकाल में नगर में मौतों का आंकड़ा बढ़ गया है। ऐसे में श्मशान में लकड़ी की कमी आ गई। यह बात मुस्लिम समाज के पंचों व कमेटी को पता चली तो जिला अल्पसंख्यक अधिकारी मंजूर खां पठान की पहल पर यह निर्णय लिया गया। समाज ने कब्रिस्तान में सूखे पेड़ों की लकड़ियां अंतिम संस्कार के लिए श्मशान में भेजने का निर्णय लिया।

थानाधिकारी हिमांशु सिंह राजावत, जिला अल्पसंख्यक अधिकारी पठान, नगरपालिका उपाध्यक्ष ऐजाज अली आदि कब्रिस्तान पहुंचे। जेसीबी से 5 से ज्यादा ट्रैक्टर-ट्रॉली में लकड़ियां को भरकर श्मशान पहुंचाई। आगे भी लकड़ियां भेजी जाएगी। इस दौरान पार्षद राजीव सोनी, अशलम शेख, पूर्व पार्षद हाजी अब्दुल रहमान मंसूरी, भाजपा के पूर्व जिला अल्पसंख्यक मोर्चा जिलाध्यक्ष सैयद अशफाक अली, मिस्त्री मोहम्मद हुसैन शाह, मोहम्मद हुसैन खान, सैय्यद मुकर्म अली, पार्षद महबूब शाह, राशिद खान पठान, अशीष सोनी, चेतनदास वैष्णव, मुकेश काबरा, अरविंद नंदवाना, यासूब अली बुखारी मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...