दाधीच समाज की बैठक:5 जिलाें के पदाधिकारियाें ने सामाजिक सुधार कार्यक्रमों पर मंथन किया

चित्तौड़गढ़9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मातृकुंडिया के महर्षि दधीचि आश्रम में मेवाड़ चोखला के दाधीच समाज की बैठक हुई। चित्तौड़गढ़, राजसमंद, भीलवाड़ा एवं उदयपुर जिले के दाधीच समाज के लाेगाें ने सामाजिक स्तर सुधार कार्यक्रमों पर मंथन किया। मुख्य अतिथि अखिल भारत वर्षीय दाहिमा (दाधीच) ब्राह्मण महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कन्हैयालाल भट्ट ने कहा कि बदलते परिवेश के अनुसार समाज में कुरीतियाें काे त्यागना हाेगा। समाज विकास के लिए शिक्षा पर फाेकस करना हाेगा। समाज की प्रतिभाओं काे तराशते हुए उन्हें प्राेत्साहन करना हाेगा, जाे समाज के विकास में अहम राेल करने वाले बनेंगे।

विशिष्ट अतिथि योग शिक्षक सुरेशचंद्र शर्मा, शिव प्रकाश दाधीच (सावा), राजेंद्र एडवोकेट, विष्णुदत्त (भूपालसागर), महर्षि दधीचि आश्रम विकास समिति के अध्यक्ष श्याम लाल दाधीच की अध्यक्षता में समिति की कार्यकारिणी के सदस्यों की उपस्थिति में सामाजिक स्तर के सुधार कार्यक्रमों पर विचार-विमर्श किया। समिति के उपाध्यक्ष शंकरलाल जोशी (राशमी), कमला शंकर काकड़ा (जाशमा), मंत्री उमेश (गिलूंड), भगवतीलाल (गिलूंड), शांतिलाल (सिंगपुर), बालूराम (पारी), कैलाश चन्द्र (ओड़वाड़िया) ने भाग लिया। अंत में अखिल भारतीय वर्षीय दाहिमा (दाधीच) ब्राह्मण महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्व. श्याम आसोपा एवं महर्षि दधीचि आश्रम मातृकुंडिया के पूर्व अध्यक्ष प्रभुदत्त पंड्या को दाे मिनट का माैन रखकर श्रद्धांजलि दी।

खबरें और भी हैं...