पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आज वैक्सीन लगेगी:पुराना स्टाॅक खत्म, 13400 नई डाेज आई, 18+ के 87861 का वैक्सीनेशन, 5.32 लाख काे टीका बाकी

चित्ताैड़गढ़एक महीने पहलेलेखक: दीपचंद पाराशर
  • कॉपी लिंक
  • यदि 18+ काे वैक्सीन लगाने का क्रम यही रहा ताे 6.18 लाख के टीकाकरण में 6 माह लगेंगे
  • अब 18+ अायुवर्ग काे विशेष प्राथमिकता दी जाएगी

वैक्सीन का पुराना स्टाॅक खत्म हाे चुका है। सरकार ने नया वैक्सीन की नई खेप प्रदेशभर में भेजी है। इस नई खेप में जिले काे शुक्रवार काे 13400 डाेज मिली है। इसलिए अब शनिवार से नई खेप की आई वैक्सीन ही लगेंगी। शुक्रवार शाम जिले के ब्लाॅक में वैक्सीन डिमांड के अनुसार जिला मुख्यालय से ब्लाॅक में भेजी है।

भास्कर ने अब तक 18 प्लस के वैक्सीनेशन की पड़ताल की ताे पाया कि महज 14 प्रतिशत काे ही वैक्सीन लगी है। यदि वैक्सीनेशन की रफ्तार यही रही ताे, केवल 18 प्लस काे वैक्सीन लगने में छह महीने का समय और लगेगा।

अंदरखाने में पता करने पर पाया कि डिमांड के मुकाबले में वैक्सीन की सप्लाई प्रदेश स्तर से आने कारण ही बीच-बीच में 18 प्लस के वैक्सीन के सेंटर काे ब्रेक करना पड़ा था। हालांकि राहत की बात है कि शनिवार काे नई खेप में आई वैक्सीन 18 प्लस आयुवर्ग काे भी लग सकेंगी और आगे इसी वर्ग काे प्राथमिकता भी मिलेंगी।

प्रदेश में कुछ जिलाें में एक मई से 18+ काे वैक्सीनेशन का क्रम शुरू हुआ था। हालांकि जिले में इस आयुवर्ग काे 10 मई से वैक्सीन लगाने का अभियान शुरू हुआ था। जिले में 18 से 44 आयुवर्ग के 6.18 लाख युवा है। युवाओं काे लंबे समय से वैक्सीन का इंतजार है।

कारण दूसरी महामारी में काेराेना से अधिकांश माैतें 25 से 50 साल के मध्य आयुवर्ग के लाेगाें की हुई थीं। इस कारण से कई परिवाराें में जबदस्त कहर टूट पड़ा था। केंद्र एवं राज्य सरकार ने तीसरी महामारी से निपटने के लिए 18 प्लस काे वैक्सीन लगाने का अभियान शुरू किया।

इससे इस युवा वर्ग में वैक्सीन के प्रति जबदस्त उत्साह बना। लेकिन डिमांड के मुकाबले जिले में वैक्सीन की सप्लाई कम हुई थीं। इस कारण 10 मई से 18 जून तक महज 87 हजार 861 युवाओं काे यानी लक्ष्य 6.18 लाख के मुकाबले महज 14 प्रतिशत काे ही वैक्सीन लग पाई।

अभी भी 5.32 लाख काे 18 प्लस आयुवर्ग काे वैक्सीन की पहली डाेज लगना बाकी है। यदि इस आयुवर्ग काे वैक्सीन लगाने की यही रफ्तार जारी रही ताे, जिले में 18 प्लस के संपूर्ण लक्ष्य काे प्राप्त करने में छह महीने और लग जाएंगे।

जिले काे काेविशिल्ड, काे-वैक्सीन की नई खेप मिली

वैक्सीन पैकिंग हाेने से छह महीने में ही काम लेना होता है। इसलिए सरकार ने पुराना स्टाॅक खत्म कर नई खेप भेजना शुरू किया। शुक्रवार काे जिले में 10900 काेविशिल्ड एवं 2500 डाेज काे-वैक्सीन की नई खेप आई है। जिले में वैक्सीन रवाना की गई। आरसीएचओ डाॅ. हरीश उपाध्याय, भदेसर बीसीएमओ डाॅ. केसी सैनी, निंबाहेड़ा बीसीएमओ डाॅ. सुनील तेली सहित माैजूद थे।

जिले में 10 मई से 18+ के वैक्सीनेशन की शुरुआत हुई। पहले दिन 2020 काे वैक्सीन लगाई। इसके बाद 11 मई काे 1919, 12 काे 757, 17 काे 2993, 18 काे 763, 21 काे 1025, 22 काे 315, 23 काे 2907, 24 काे 3208, 26 काे 275, 27 काे 1846, 28 काे 792, 31 काे 6111 तथा एक जून काे 582, 9 काे 17128, 10 काे 13193, 11 काे 492, 12 काे 8471, 13 काे 10413, 14 काे 7128, 15 काे 2488, 16 काे 1346, 17 काे 2474 व 18 जून काे 225 काे टीका लगा।

खबरें और भी हैं...