उदयपुर-खजुराहो ट्रेन भी इलेक्ट्रिक इंजन से चलेगी:भरतपुर-आगरा ट्रैक इलेक्ट्रिक हाेने के साथ तैयारी शुरू, अब 19 में सिर्फ 3 ट्रेनें डीजल पर रहीं

चित्तौड़गढ़6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हमारे जंक्शन के चारों ओर से इलेक्ट्रिफाइड होने के बाद रेलवे इलेक्ट्रिक ट्रेनों का संचालन बढ़ा रहा है। अब खजुराहो- उदयपुर एक्सप्रेस काे भी इलेक्ट्रिक इंजन से चलाने की तैयारी है। बांदीकुई वाया भरतपुर-आगरा ट्रैक पर यात्री ट्रेनों का संचालन इलेक्ट्रिक इंजन से शुरू हो गया है। इसे देखते हुए उदयपुरसिटी- खजुराहो ट्रेन भी जल्दी इलेक्ट्रिक इंजन से चलेगी।

इस तरह गति बढ़ने से समय की बचत के साथ प्रदूषण से भी मुक्ति मिलेगी। बताया यगा कि 23 मार्च से इस रेल मार्ग पर मालगाडियों का संचालन इलेक्ट्रिक इंजन से शुरू किया। वर्तमान में चित्तौडगढ स्टेशन होकर संचालित 19 में से मात्र 3 ट्रेनें ही ऐसी रही है जो डीजल इंजन से ही चल रही है।

अजमेर, रतलाम और उदयपुर से संचालित लंबी दूरी की सभी ट्रेनें इलेक्ट्रिक इंजन पर आ चुकी है। हालांकि कोरोना के कारण अभी कई ट्रेनें बंद है। गौरतलब है कि चित्तोड़गढ़ से अजमेर, उदयपुर, रतलाम और कोटा चारों खंड इलेक्ट्रिकफाइड हो गए। सिर्फ कोटा रूट पर कुछ काम बाकी है। इस मंडल की ट्रेनें डीजल इंजन से चल रही है।

पदोन्नति का मौका

रेलवे के प्वाइंटमैन लेवल-दो और सफाई कर्मचारी भी टिकट कलेक्टर बन सकेंगे। रेलवे बोर्ड के इस आदेश के बाद कई मंडलों में एक हजार से अधिक प्वाइंटमैन मैन व सफाई कर्मचारी प्रमोशन के पात्र होंगे। उल्लेखनीय है कि कई प्वाइंटमैन व सफाई कर्मचारी ग्रेजुएट, पोस्ट ग्रेजुएट व पॉलिटेक्निक डिप्लोमाधारी हैं। रेलवे में ग्रुप डी से सी में पदोन्नति के लिए समय-समय पर विभागीय परीक्षा होती है।

इसके लिए विभिन्न विभागों के पात्र कर्मचारी आवेदन कर सकते हैं। सफल होने के बाद वे प्रमोशन पाकर ग्रुप सी में आ जाते थे लेकिन रेलवे की सेफ्टी कैटेगरी से जुड़े प्वाइंटमैन विभागीय परीक्षा के लिए पात्र नहीं थे। ऑल इंडिया रेलवे मेन्स फेडरेशन के सहायक महामंत्री मुकेश गालव का कहना है कि फेडरेशन ने इस मुद्दे को रेलवे बोर्ड के समक्ष रखा था। बोर्ड ने अब आदेश जारी कर दिए हैं कि प्वाइंटमैन व सफाई कर्मचारी भी योग्यता के आधार पर टिकट कलेक्टर व सहायक वाणिज्य लिपिक बन सकेंगे।

उदयपुर-इंदौर ट्रेन 17 मई तक सप्ताह में तीन दिन चलेगी

कोरोना संक्रमण को देखते हुए रेलवे ने कुछ यात्री ट्रेनों का संचालन बंद किया है। रतलाम-चित्तौड़गढ़ ट्रैक पर तीन दिन पहले 6 ट्रेनें बंद व जोधपुर-इंदौर का रूट बदल दिया था। अब यात्रीभार में कमी देखते हुए उदयपुर-इंदौर एक्सप्रेस को सप्ताह में तीन दिन चलाने का निर्णय लिया।

इंदौर आने-जाने के लिए जोधपुर ट्रेन अभी नियमित है। उदयपुर से मंगल, बुध, शुक्र व रविवार को ट्रेन इंदौर नहीं जाएगी। रेलवे ने ट्रेन संख्या 09329 इंदौर-उदयपुर एक्सप्रेस को 30 अप्रैल से 16 मई तक प्रति बुध, शुक्र व शनिवार को इंदौर से तथा ट्रेन संख्या 09330 उदयपुर-इंदौर को 1 से 17 मई तक प्रति गुरु, शनि व सोमवार को उदयपुर से चलाया जाएगा।

खबरें और भी हैं...