पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जमीन के 7 फीट नीचे मिली महिला की लाश:सरपंच पति ने अश्लील फोटो वायरल की थीं, महिला शिकायत करने थाने गई तो मिली मौत, देर रात पुलिस ने बताया- महिला आरोपी को ब्लैकमेल कर रही थी

चित्तौड़गढ़11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सेमलिया और पालछा गांव के बीच मेन रोड के नीचे गढ़ा मिला शव। - Dainik Bhaskar
सेमलिया और पालछा गांव के बीच मेन रोड के नीचे गढ़ा मिला शव।

जिले के विजयपुर थाना क्षेत्र के सेमलिया और पालछा के बीच मेन रोड पर एक महिला का शव जमीन में गढ़ा हुआ मिला। जो करीब 17 दिन पहले घर से गायब हो गई थी। मामले में पुलिस ने अमरपुरा सरपंच के पति और उसके ड्राइव को गिरफ्तार किया है। उन्हीं से पूछताछ के आधार पर शव को बरामद किया गया। जिन्होंने हत्या कर महिला को जमीन में गाढ़ दिया था।

दरअसल, मृतक महिला का अश्लील फोटो सरपंच पति भरत कुमार धाकड़ ने वायरल किया था। जिसके बाद 16 अप्रैल को महिला ने विजयपुर थाना पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज करवाने की बात कही थी, लेकिन थाना अधिकारी ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की। उसी दिन महिला को रात करीब 8 बजे भरत कुमार के साथ बाहर जाते देखा गया। काफी देर तक नहीं लौटने पर उसके परिजनों ने दुबारा थाने में जाकर रिपोर्ट दर्ज करवाने की कोशिश की, लेकिन पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की।

परिजनों ने मामले की जानकारी विधायक चंद्रभान सिंह आक्या को दी थी। विधायक आक्या ने उसी समय थाना अधिकारी अशोक कुमार व उच्च अधिकारियों से बात की, लेकिन कार्रवाई नहीं की गई। जनप्रतिनिधियों द्वारा जब लगातार दबाव डाला गया तो गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कर जांच की गई। रिपोर्ट में महिला के परिजनों ने अमरपुरा सरपंच पति भरत कुमार और उसके ड्राइवर प्रताप सिंह के खिलाफ मामला दर्ज किया था। पुलिस ने दोनों की तलाश शुरू की। दो मई को दोनों को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। पूछताछ के दौरान दोनों ने महिला की हत्या करना और जमीन में गाड़ने की बात स्वीकार की। आरोपियों के निशानदेही पर पुलिस मय जाब्ता सेमलिया और पालछा के बीच एक गांव के पहुंची। जहां मेन रोड पर ही महिला को दफनाया गया था। सूचना मिलते ही मौके पर हड़कंप मच गया। आसपास के ग्रामीण एकत्रित हो गए। पुलिस ने मौके पर जेसीबी बुलाकर 7 फीट खड्डा किया। जिसके बाद शव को बाहर निकाला गया।

विधायक आक्या ने लगाए थानाधिकारी और पुलिस प्रणाली पर आरोप

इस मामले में विधायक चंद्रभान सिंह आक्या ने कहा कि भरत ने महिला का अश्लील फोटो वायरल किया था। उसको लेकर महिला रिपोर्ट दर्ज करवाने गई थी, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। उसने पुलिस को बताया था कि उसके जान को खतरा है, इसके बावजूद भी कोई कार्रवाई नहीं की। विधायक आक्या ने थाना अधिकारी पर आरोप लगाते हुए कहा कि जहां पुलिस को पीड़िता की मदद की जरूरत थी। वहां आरोपियों को थाने में बुलाकर चाय, नाश्ता करवा रहे थे। मैंने खुद थाना अधिकारी और उच्च अधिकारियों से बात करके मामले की जांच के लिए कहा लेकिन इसके बावजूद भी कोई कार्यवाही नहीं हुई। जबकि उसके साथ दो आरोपियों ने दुष्कर्म भी किया है।

थानाधिकारी ने विधायक के आरोप को बताया गलत

वहीं, थाना अधिकारी अशोक कुमार ने सभी आरोपों को गलत बताते हुए कहा कि 16 तारीख को ही हमने रिपोर्ट दर्ज कर ली थी। हम जांच कर रहे थे। इसी दौरान एक और रिपोर्ट दर्ज की गई। उसमें नामजद आरोपियों की हमने तलाश कर उनको हिरासत में लिया और कड़ी पूछताछ की। जिसके बाद उन्होंने हत्या करना स्वीकार किया। थाना अधिकारी अशोक कुमार का कहना है कि जब तक आरोपी कुछ बताएगा नहीं, तब तक हम कैसे कोई कार्रवाई कर सकते हैं। जब उसने अपना आरोप स्वीकार कर लिया तो उसके बाद हमने कार्रवाई की।

थानाधिकारी को किया लाइन हाजिर

इस मामले में जनप्रतिनिधियों के दबाव डालने के बाद थाना अधिकारी अशोक कुमार को लाइन हाजिर कर दिया गया है। अशोक कुमार के खिलाफ लगातार शिकायत मिलने पर एडिशनल एसपी हिम्मत सिंह देवल ने यह फैसला किया। इस मामले की जांच पारसोली थाना अधिकारी संजय कुमार को सौंपा गया।

फिर देर रात पुलिस ने दी नई अपडेट

इस मामले में सोमवार देर रात पुलिस ने मीडियो को नई अपडेट दी।

इस अपडेट के अनुसार आरोपी भरत व उसके चालक प्रताप को युवती दोनों को ब्लैकमेल कर रही थी। पहले से ही तीन लाख रुपए ले चुकी थी और एक लाख रुपए और मांग रही थी। इस बात से परेशान होकर भरत ने हत्या की योजना बनाई और अपने साथ ड्राइवर को शामिल कर लिया। 16 अप्रेल के दिन आरोपी ने युवती को पैसे देने के बहाने मांगरोल चौराहे पर बुलाया। युवती वहां पहुंची और गाड़ी में बैठ गयी। बाद में ओछड़ी टोल नाका होते हुए उसे घाटा क्षेत्र के एक तालाब के पास ले गए। वहां रात्रि करीब आठ बजे भरत ने युवती को सुलाकर जबरदस्ती उसके मुंह में विषाक्त गोलियां डाल दी और कुछ देर मुंह बंद करने के बाद उसे पानी पिला दिया। इससे युवती बेहोश हो गई। इसी दौरान महिला का रस्सी से गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी। हत्या के बाद आरोपी युवती के शव को पालछा गांव के जंगल में ले गए और वहां पहले ही खुद गहरे गड्ढे में शव को डालकर ऊपर मिट्टी डाल दी। इस काम मे रात के करीब बारह बज गए। इसके बाद दोनों आरोपी वहां से हमीरगढ़ की तरफ चले गए। इससे पहले आरोपी ने पुलिस को गुमराह करते हुए बताया था कि उसने युवती को ओछड़ी टोल नाके के पास गाड़ी से उतार दिया था। पुलिस ने कॉल डिटेल निकलवाने के बाद आरोपियों से पूछताछ की तो सारा घटनाक्रम सामने आ गया।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - कुछ समय से चल रही किसी दुविधा और बेचैनी से आज राहत मिलेगी। आध्यात्मिक और धार्मिक गतिविधियों में कुछ समय व्यतीत करना आपको पॉजिटिव बनाएगा। कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती है इसीलिए किसी भी फोन क...

और पढ़ें