बारिश में सुविधा:प्रधान डाकघर में 10 रुपए में विशेष वाटर प्रूफ लिफाफा विदेशों में भी समय पर और सुुरक्षित पहुंचेगी राखियां

चित्ताैड़गढ़3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • रक्षाबंधन 22 को, लिफाफे के लिए विशेष काउंटर लगाया

डाक विभाग ने रक्षाबंधन से पहले विदेश तक राखी पहुंचाने की योजना बनाई है। राखी वाले लिफाफे को अलग बैग में बंद कर भेजा जाएगा। रक्षाबंधन 22 अगस्त को है। डाक विभाग ने इस साल सुरक्षित राखी पहुंचाने की व्यवस्था की है। यहां जिला मुख्यालय पर प्रधान डाकघर में 10 रुपए में विशेष वाटर प्रूफ लिफाफा उपलब्ध है।

इसके लिए विशेष काउंटर की व्यवस्था भी की गई है। विभाग ने डाकघरों में राखी भेजने के लिए स्पेशल लिफाफे की बिक्री शुरू कर दी गई। ये लिफाफा वाटर प्रूफ है। इसमें रखी राखी खराब नहीं होगी। डाक विभाग ने एक लिफाफे की कीमत 10 रुपए रखी है। राखी भेजने पर डाक टिकट अलग से लगाना पड़ेगा।

पिछले साल कोरोना संक्रमण के कारण विदेश जाने वाली राखी समय से नहीं पहुंच पाई थीं। कारण बताया जाता है कि भारत से विदेश पहुंचने वाली डाक सामग्री को 18 दिन तक अलग रखा जाता था। उसके बाद डाक सामग्री का वितरण किया जाता था। ऐसा इसलि‍ए कि पार्सल सामग्री के साथ अगर कोरोना का कोई वायरस आ गया तो वह नष्ट हो जाएगा।

डाक छांटने में होगी सुविधा, राखी भेजने का शुल्क अलग से देना होगा

  • डाक अधीक्षक गाेपाललाल ने बताया कि सावन में बारिश होती रहती है। डाक विभाग जमीन से लेकर जंगल तक बहनों की राखियां उनके भाइयों तक पहुंचाने का सबसे सशक्त माध्यम है। इसलिए इस बार तय किया कि 10 रुपए में 11 बाई 22 सेमी का वाटरप्रूफ रंगीन डिजाइनदार लिफाफा बहनों के लिए न्यूनतम दर में उपलब्ध कराया जाए।
  • राखी भेजने का शुल्क अलग से देना होगा। जिला मुख्यालय पर प्रधान डाकघर में एक अलग काउंटर शुरू किया है। वाटरप्रूफ लिफाफे के बायीं तरफ ऊपरी हिस्से में भारतीय डाक विभाग का लोगो और रक्षाबंधन की डिजाइन के साथ अंग्रेजी में राखी लिफाफा और नीचे दाएं ओर हैप्पी राखी लिखा है।
खबरें और भी हैं...