सख्ती / निंबाहेड़ा पुलिस को नहीं दिखे थे तस्करों के ट्रक एक मिला ही नहीं, दूसरा जावद पुलिस ने पकड़ा

X

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 07:14 AM IST

चित्तौड़गढ़. पिछले एक माह में खाकी को दागदार करने के आरोप में एसपी दीपक भार्गव ने विजयपुर थानाधिकारी सहित राशमी व डूंगला के सिपाहियों को निलंबित किया। वहीं शंभूपुरा थानाधिकारी व इसी थाने के दो एएसआई, 5 सिपाही व राशमी थाने के सिपाहियों को लाइन हाजिर किया। निंबाहेड़ा सदर, कोतवाली सहित कनेरा थाना पुलिस शिकायत के बाद जांच के दायरे में हैं। निंबाहेड़ा सदर थाना क्षेत्र में कुछ दिन पूर्व डोडा चूरा से भरा मिनी ट्रक पुलिस के सामने गायब हो गया। निंबाहेड़ा कोतवाली थाना क्षेत्र के केली गांव से एक तस्कर गोबर की खाद की आड़ में दो क्विटंल डोडा चूरा ले गया। उसे एमपी के जावद थाना पुलिस ने पकड़ा।
लाइन हाजिर करना सजा नहीं सिर्फ फील्ड से हटाना
पुलिस विभाग में किसी अधिकारी व कर्मचारी को लाइन हाजिर करना कार्रवाई नहीं है। महज यह उसे फिल्ड से हटाना मात्र है। दबाव बढ़ने पर उच्चाधिकारी यह कार्रवाई करते हैं। अंग्रेजों के जमाने से दंड स्वरूप लाइन हाजिर करने की परंपरा शुरू हुई। लाइन हाजिर पुलिस नियमावली में कोई कार्रवाई नहीं है। इसका मतलब पुलिस लाइन में स्थानांतरण है। यूं कहे कि लोगों का गुस्सा शांत करने के लिए लाइन हाजिर कर दिया जाता है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना