• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bhilwara
  • Chittorgarh
  • The Secretary Of The Department Of Autonomous Government Went To See The Opportunity, For The People In The Mohar Mangri Area, The NAP Asked The Police To Register The Allotted Land In The Population.

ग्रामीणों की समस्याओं का मौके पर निस्तारण:स्वायत्त शासन विभाग सचिव मौका देखने गए, मोहर मंगरी क्षेत्र में लोगों के लिए नप ने पुलिस को आबंटित जमीन आबादी में दर्ज करने

चित्तौड़गढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आवलहेड़ा शिविर में ग्रामीणों को पट्टा देते विधायक आक्या, एसडीम बिश्नोई, पूर्व विधायक जाड़ावत। - Dainik Bhaskar
आवलहेड़ा शिविर में ग्रामीणों को पट्टा देते विधायक आक्या, एसडीम बिश्नोई, पूर्व विधायक जाड़ावत।

चित्तौडग़ढ़ पंचायत समिति के ग्राम पंचायत आंवलहेड़ा में आयोजित प्रशासन गांवों के संग अभियान में पहुंच विधायक चन्द्रभान सिंह आक्या ने ग्रामीणों की समस्याओं का मौके पर निस्तारण करवाया। विधायक आक्या पंचायत समिति चित्तौडग़ढ़ के आंवलहेड़ा ग्राम पंचायत में आयोजित प्रशासन गांवों के संग अभियान में पहुंचकर जोब कार्ड, ई-श्रम कार्ड वितरित किए। शिविर में सहकारी समिति से लोन स्वीकृत करवाने के साथ ही दुग्ध संबल योजना में चैक वितरण किए एवं पालनहार योजना में ग्रामीण बच्चों को लाभ दिलाया एवं ग्रामवासियों की समस्याओं को सुनकर शिविर में उपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारी से मौके पर ही निस्तारण करवाया।

पेंशन प्रकरणों के निस्तारण कराने के साथ ही किसानों द्वारा मौके पर हिस्से बंटवारे की पत्रावलियां पेश की गई जिनका निस्तारण करवाया, इसके साथ ही शिविर में पहुंचे निशक्तजन महिला एवं पुरूष को ट्राइसाइकिल भी प्रदान कराई। शिविर में विधायक चन्द्रभान सिंह आक्या, प्रधान देवेन्द्र कंवर, भूमि विकास बैंक के चेयरमेन कमलेश पुरोहित, बस्सी मण्डल अध्यक्ष भंवरसिंह खरड़ीबावड़ी, धनेतकलां सरपंच रणजीत सिंह भाटी, बस्सी मण्डल महामंत्री रामेश्वरलाल धाकड़, उपसरपंच रतन सेन, राजेन्द्र कुमावत, नारायण कुमावत, अशोक सुथार, भैरूलाल कुमावत, नारायण सुथार, भैरूलाल कुमावत सहित माैजूद थे।

पंचायत समिति भूपालसागर की ग्राम पंचायत निलोद में मंगलवार काे प्रशासन गांवों के संग शिविर आयोजित हुआ। शिविर में विधायक अर्जुनलाल जीनगर, प्रधान हेमेन्द्रसिंह राणावत, शिविर प्रभारी उपखंड अधिकारी भावना सिंह, तहसीलदार भूपालसागर अशोक कुमार सोनी, थानाधिकारी आकोला ओंकार सिंह चारण व अन्य विभागीय अधिकारी एवं जनप्रतिनिधियों ने आमजन के कार्याें का त्वरित निस्तारण किया।

शिविर में राजस्व विभाग ने नामान्तरण के 103, राजस्व अभिलेख/ खातों का शुद्धिकरण के 107, आपसी सहमति से खाता विभाजन के 6, रास्ते के 4, अतिक्रमण हटाने के 6, जाति/ मूल/ हैसियत व अन्य के 198 प्रमाण-पत्र तथा राजस्व रिकाॅर्ड की 327 प्रतिलिपियां जारी कर आमजन को राहत दी। ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग ने 220 नये जॉब कार्ड, जन्म/मृत्यु व अन्य के 12 प्रमाण-पत्र, 295 पट्टे जारी कर लाभान्वित किया तथा नाम हस्तान्तरण के 5 प्रकरणों को भी निस्तारित किया। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग ने 3 दिव्यांग व्यक्तियों को ट्राई साइकिल व 1 पात्र को बैसाखी वितरण, 16 पालनहार पेंशन तथा 26 अन्य योजनाओं की पेंशन स्वीकृति मौके पर ही जारी कर दिव्यांग एवं पात्र व्यक्तियों को लाभान्वित किया। कृषि विभाग द्वारा 95 मृदा स्वास्थ्य कार्ड वितरण कर 5 व्यक्तियों को पीपी यंत्र वितरण किये।

राजस्थान भ्रष्टाचार में नम्बर 1 पर हैं, यहां बिना पैसे दिये कोई काम नहीं हो रहा। उक्त विचार क्षेत्रीय विधायक राजेन्द्र सिंह विधुड़ी ने उपखण्ड मुख्यालय पर आयोजित शिविर में प्रशासन गांव के संग शिविर में कहे। शिविर की अध्यक्षता उपखण्ड अधिकारी रामसुख गुर्जर ने की। शिविर के दौरान विकलांगो को ट्राईसाईकिल व आवासीय पट्टे वितरित किए, तथा उपखण्ड क्षैत्र की विभिन्न ग्राम पंचायतों में उत्कृष्ट कार्य करने वाले कर्मचारियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।

शिविर में विशिष्ट अतिथि रविन्द्र सिंह राणावत, तहसीलदार नरेश कुमार गुर्जर, विकास अधिकारी मनोहर लाल शर्मा, नारायण लाल गुर्जर, ब्लॉक अध्यक्ष बालूराम जागेटिया सहित ब्लॉक स्तरीय पदाधिकारी थे। सरपंच रेखा देवी शर्मा एवं प्रतिनिधि बालकिशन शर्मा ने अतिथियों का स्वागत किया। शिविर के दौरान राजस्व विभाग द्वारा 9 विभाजन, 1 प्रस्ताव प्रकरण, 270 नामन्तरण, 253 शुद्धिकरण व 3 रास्ता प्रकरण का मौके पर ही निस्तारण किया। चिकित्सा विभाग द्वारा 60 कोरोना का टीकाकरण किया गया। सहकारिता विभाग द्वारा दाे दर्जन किसानाें काे अल्पकालीन फसली ऋण के तहत 5,61,000/- की नकद राशि का भुगतान कर राहत दी।

शहर में खनिज विभाग के सामने 125 और मोहरमंगरी बस्ती के 100 परिवारों को भी पट्टे देने की कवायद

गांधीनगर मोहरमंगरी के पास बरसों पहले पुलिस विभाग को आबंटित जमीन और खनिज विभाग के सामने की बस्ती में काबिज परिवारों को भी प्रशासन शहरों के संग अभियान में पट्टे दिलाने की कवायद हो रही है। मंगलवार को अभियान के निरीक्षण पर आए स्वायत्त शासन विभाग शासन सचिव भवानीसिंह देथा के समक्ष यह मुद्दे आए। देथा खनिज विभाग के सामने तो मौका देखने भी गए। दोनों जगह करीब 225 परिवार नियमन की आस में है।

मंगलवार को नप वार्ड संख्या 37 से 41 का शिविर पाडनपोल स्थित फायर स्टेशन परिसर में था। जिसमें शासन सचिव भवानीसिंह देथा भी कलेक्टर ताराचंद मीणा व पूर्व विधायक सुरेंद्रसिंह जाड़ावत के साथ निरीक्षण पर पहुंचे। आयुक्त रिंकल गुप्ता के अनुसार शासन सचिव ने शिविर में दैनिक कार्यों व प्रगति की जानकारी लेते हुए प्रत्येक विभाग की पत्रावलियां देखी। सभापति संदीप शर्मा ने स्वागत करते हुए पट्टे देने में आ रही कठिनाइयों की जानकारी दी।

सूत्रों के अनुसार नप ने गत दिनों कलेक्टर को लिखे पत्र में कहा कि मोहरमंगरी क्षेत्र में 6.76 हैक्टेयर भूमि वर्ष 2003 में तत्कालीन कलेक्टर ने पुलिस विभाग को आबंटित की पर इनमें से कुछ जमीन पर इससे पहले से करीब 100 परिवार काबिज होकर निवास कर रहे थे। नप ने 2013 में भी इसमें से 3 हैक्टेयर भूमि नगर परिषद के नाम आबादी में दर्ज करने का आग्रह किया था पर अब तक कार्रवाई नहीं हुई। शासन सचिव देथा खनिज विभाग के सामने मौका देखने भी गए। उपनिदेशक विनय पाठक, पार्षद नीतू कंवर भाटी, टिंकू धामानी, छोटूसिंह शेखावत, जाकिर हुसैन आदि मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...