• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bhilwara
  • Chittorgarh
  • Bhilwara Trainees Were Chasing A Vehicle Filled With IPS Gravel, Gravel Mafia Surrounded, Tried To Mount A Car On A Police Car, A Case Was Registered In Gangrar Police Station

बजरी माफियाओं के हुए हौंसले बुलंद:भीलवाड़ा के प्रशिक्षु IPS बजरी से भरे वाहन का कर रहे थे पीछा, बजरी माफियाओं ने घेरा, पुलिस की गाड़ी पर कार चढ़ाने की कोशिश, गंगरार थाने में हुआ मामला दर्ज

चित्तौड़गढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हाईवे के होटल में सीसीटीवी फुटेज देखती पुलिस। - Dainik Bhaskar
हाईवे के होटल में सीसीटीवी फुटेज देखती पुलिस।

चित्तौड़गढ़ जिला सहित आसपास के जिलों में बजरी माफियाओं की गतिविधियां लगातार बढ़ती जा रही है। इसको लेकर उनके हौसले भी काफी बुलंद होते जा रहे है। समीपवर्ती भीलवाड़ा जिले से बजरी ले जा रहे वाहनों का पीछा करने पर एक प्रशिक्षु आईपीएस के वाहन को एस्कोर्टिंग कर रहे वाहनों ने घेर कर गाड़ी चढ़ाने की कोशिश की, जिसमें प्रशिक्षु आईपीएस बाल बाल बचे। इस घटना के बाद आसपास हड़कंप मच गया। यह घटना जिले के गंगरार क्षेत्र में हुई जिसके बाद गंगरार पुलिस सक्रिय हो गई और डंपर को ढूंढने की कोशिश कर रहे है। वही थाने में कई लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

भीलवाड़ा और गंगरार पुलिस सक्रिय

भीलवाड़ा में तैनात प्रशिक्षु IPS हरिशंकर यादव को सूचना मिली थी कि अवैध बजरी से भरे वाहन चित्तौड़गढ़ की ओर जा रहे है। जिसके बाद प्रशिक्षु IPS ने बजरी से भरे वाहन का पीछा किया। वाहन चित्तौड़गढ़ जिले के गंगरार क्षेत्र में आ चुके थे। हाईवे पर होटल तिरंगा के बाहर कई अवैध बजरी से भरे हुए डंपर खड़े थे, जिनको उनके चालक लेकर भगाने लगे। इन बजरी के डंपरो के एस्कोर्टिंग कर रहे ब्रेजा, स्विफ्ट, बोलेरो कार आए और पुलिस के वाहन के आगे पीछे लगा दिया। पुलिस ने वहां से निकलने की कोशिश की तो एस्कोर्टिंग कर रहे लोगों ने पुलिस के वाहन के ऊपर कार चढ़ाने की कोशिश की। इस मामले में अधिकारी बाल बाल बच गए। वहीं, आसपास के क्षेत्रों में हड़कंप मच गया। सूचना पर भीलवाड़ा और गंगरार पुलिस सक्रिय हो गए। इसकी सूचना मिलने पर भीलवाड़ा से पुलिस अधिकारी और गंगरार थाना प्रभारी शिवलाल मीणा मौके पर पहुंचे। पुलिस ने पास के ही हाईवे पर बनी एक होटल में लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले। उसके जरिए वाहनों की तलाश शुरू कर दी है। फिलहाल पुलिस मामले में जांच कर रही है। प्रशिक्षु आईपीएस अधिकारी ने थाना गंगरार में देवदा निवासी गोविंद गुर्जर, देवगिरी का खेड़ा, सोनियाणा निवासी राजू पूरी, हमीडगढ़ निवासी संपत पुत्र कान्हा गुर्जर, हमीडगढ़ निवासी छोटू पुत्र काना गुर्जर, राजु कीर, नारायण मीणा, फागण का खेड़ा निवासी दिनेश गुर्जर पुत्र सुखदेव गुर्जर और फागण का खेड़ा निवासी सुखदेव पुत्र उदय लाल गुर्जर सहित 10-12 अन्य व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया।

खबरें और भी हैं...