बहन को बचाने गया भाई भी डूबा:खाना बनाने की बात पर दोनों में हुआ था झगड़ा, नाराज बहन ने खदान में लगा दी छलांग

चित्तौड़गढ़7 महीने पहले

खाना बनाने की बात पर हुई लड़ाई में बहन ने डूबकर जान दे दी। बहन को बचाने गया भाई भी डूब गया। चित्तौड़गढ़ में खाना बनाने को लेकर भाई ने डांट दिया तो बहन नाराज हो गई और पानी से भरे खदान में कूद गई। बड़ा भाई बचाने गया तो वह भी डूब गया और दोनों की मौत हो गई। मामला चित्तौड़गढ़ के सदर थाना क्षेत्र के सेंती का है।

भाई-बहन गहरे पानी में डूबे
उपखंड अधिकारी श्यामसुंदर विश्नोई ने बताया कि देवनारायण मंदिर के पास पानी से भरे खदान में कच्ची बस्ती, पंचवटी की नाजिया उर्फ रौनक (18 साल) कूद गई। पीछे बहन को बचाने आया भाई शाहबाज उर्फ राजा (25) ने उसका हाथ पकड़ लिया। लेकिन पांव फिसलने से वो नीचे जा गिरा। बहन ने इस दौरान भाई के कमर को कस कर पकड़ लिया, जिससे राजा तैर नहीं पाया। दोनों ही गहरे खदान में अंदर चले गए।

बचाने की कोशिश नाकाम रही
आसपास के लोगों ने जल्दी से कपड़े लाकर उनको बचाने की कोशिश की, लेकिन दोनों ही गहराई में चले गए। सूचना पर मौके पर उपखंड अधिकारी श्यामसुंदर बिश्नोई, DYSP बुद्धराज, तहसीलदार शिव सिंह, शहर कोतवाल तुलसीराम प्रजापति, सदर थाना अधिकारी दर्शन सिंह मौके पर पहुंचे। मौके पर सिविल डिफेंस की टीम की पहुंची 2 घंटे तक ठंडी हवाओं और ठंडे पानी के बीच भाई बहन की तलाश की गई। करीब 8.45 बजे दोनों शव को बाहर निकालकर हॉस्पिटल के मोर्चरी में रखवाया।

खदान में भाई-बहन को तलाशने में जुटी सिविल डिफेंस की टीम के साथ मौके पर मौजूद एसडीएम, तहसीलदार और पुलिस जाब्ता।
खदान में भाई-बहन को तलाशने में जुटी सिविल डिफेंस की टीम के साथ मौके पर मौजूद एसडीएम, तहसीलदार और पुलिस जाब्ता।

मामूली झगड़े को दिल पर ले बैठी युवती
शनिवार शाम को नाजिया और उसके भाई फयूज के बीच में खाना बनाने को लेकर लड़ाई हो गई थी। झगड़ा तो काफी मामूली था, लेकिन नाजिया दिल पर ले बैठी। काम पर गई मां जब वापस घर पर आई तो दोनों को समझाया। नाजिया समझ भी गई थी। बड़ा भाई राजा जब काम करके घर वापस आया तो मां ने सारी बात बताई। राजा ने कहा कि मैं दोनों को समझा देता हूं और हाथ-पैर धोने चला गया। इसी बीच नाजिया पीछे के दरवाजे से बाहर निकल गई और खदान की तरफ भागने लगी। पड़ोसियों ने बताया कि नाजिया खदान की तरफ भाग रही है। कुछ गलत होने के अंदेशा से बड़ा भाई भी मोटरसाइकिल लेकर पीछे-पीछे गया, लेकिन मना करने के बाद भी रौनक खदान में कूद गई। हैरत की बात है कि राजा तैरना जानता था, लेकिन वो न अपनी बहन की जान बचा पाया और न खुद की।

खदान में शनिवार रात को भाई-बहन के शव को ढूंढते हुए सिविल डिफेंस की टीम।
खदान में शनिवार रात को भाई-बहन के शव को ढूंढते हुए सिविल डिफेंस की टीम।

घर में चल रही थी शादी की तैयारियां
राजा और रौनक के अलावा इनका एक भाई और एक बहन है। बड़ी बहन की शादी हो चुकी है, जबकि राजा की 4 महीने बाद ही शादी होने वाली थी। शादी की तैयारियां भी शुरू हो चुकी थी। इनके घर पर भी काम चल रहा था। शुक्रवार को ही छत की आरसीसी का काम हुआ। राजा लाइट फिटिंग का काम करता था। रौनक ने पढ़ाई छोड़ दी है। राजा सबसे बड़ा भाई था,जबकि रौनक घर की सबसे छोटी बेटी थी।

खबरें और भी हैं...