• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bhilwara
  • Chittorgarh
  • Thousands Of Devotees Reached Kalika Mata On The First Day Of Navratri, Despite The Temple Being Closed, They Were Happy To See The LED Outside, Heavy Police Presence Was Present.

मंदिर के बाहर लगे LED से माता के किए दर्शन:मंदिर बंद होने के बाद भी हजारों श्रद्धालु पहुंचे,नवरात्र के पहले दिन कालिका माता के मंदिर में हुई घट स्थापना, पुलिस जाब्ता रहा तैनात

चित्तौड़गढ़13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मंदिर बंद होने के बावजूद भी भक्तों की लगी भीड़। - Dainik Bhaskar
मंदिर बंद होने के बावजूद भी भक्तों की लगी भीड़।

वर्ल्ड हैरिटेज चित्तौड़गढ़ दुर्ग स्थित कालिका माता मंदिर में आज गुरुवार को नवरात्र के पहले दिन घट स्थापना की गई। वैसे तो कोरोना के कारण सभी मंदिर बंद रखे गए और यह खबर 2 दिन पहले ही दे दी गई थी। बावजूद इसके मंदिर में माता के दर्शन के लिए सुबह ही हजारों की तादाद में श्रद्धालु पहुंच गए। मंदिर के पट जरूर बंद रखे गए लेकिन भक्तों को दर्शन देने के लिए एलईडी लगाई गई, जहां ऑनलाइन माता के दर्शन करवाए गए। भक्तों ने बाहर से ही एलईडी में देखकर दर्शन कर धोक लगाया। इस बीच भारी संख्या में पुलिस जाब्ता भी मौजूद रहा।

एलईडी में दर्शन पाकर भक्त हुए खुश।
एलईडी में दर्शन पाकर भक्त हुए खुश।
मौका जायजा लेने के लिए पुलिस उप अधीक्षक मनीष शर्मा भी मंदिर पहुंचे।
मौका जायजा लेने के लिए पुलिस उप अधीक्षक मनीष शर्मा भी मंदिर पहुंचे।

अल सुबह ही दुर्ग स्थित कालिका माता मंदिर सहित आसपास के सभी शक्तिपीठों पर घट स्थापना की गई। कालिका माता मंदिर में इस दौरान मातेश्वरी सेवा ग्रुप परिवार की ओर से 18 सालों से चली आ रही परंपरा अनुसार ध्वजा चढ़ाई गई। सुबह एकलिंगजी ट्रस्ट की ओर से विधि-विधान से घट की स्थापना की गई। सुबह से ही श्रद्धालुओं का आना-जाना शुरू हो गया था। ऐसे में पुलिस उप अधीक्षक चित्तौड़गढ़ मनीष शर्मा मौके पर पहुंचे। दूसरी ओर एएसआई भूर सिंह मय जाब्ता मौके पर तैनात रहे।

सुबह से ही भक्तों की लगी लाइन।
सुबह से ही भक्तों की लगी लाइन।

बाहर से लगाई ढोक

पुलिस, मंदिर के महंत, पंडित और मंडल के कर्मचारी के उपस्थिति में आरती की गई। बाहर भक्तों के लिए एलईडी स्क्रीन लगाई गई, जहां माता के ऑनलाइन दर्शन करवाए गए। इसको देखते हुए भक्तों ने बाहर से ही माता के ढोक लगाया, लेकिन इस दौरान काफी लंबी लाइन लग चुकी थी। पुलिस ने बाद में सभी को कोरोना गाइडलाइन की पालना के निर्देश दिए और भीड़ को हटाने का प्रयास किया।

राज परिवार की ओर से की गई घट स्थापना।
राज परिवार की ओर से की गई घट स्थापना।

भीड़ बढ़ी तो बन्द किया जाएगा रास्ता

महंत राम नारायण पुरी ने सभी से दूर से ही दर्शन करने का निवेदन किया। वही एएसआई भूर सिंह ने कहा कि कालिका माता मंदिर के प्रति भक्तों की अटूट श्रद्धा है। इसीलिए कोविड-19 गाइडलाइन जारी करने के और मंदिर बंद रखने के बावजूद भी भक्त यहां सुबह से ही पहुंच चुके थे। अगर भीड़ ज्यादा बढ़ती हुई दिखाई देगी तो सब को यहां से हटा दिया जाएगा और मंदिर का रास्ता भी बंद कर दिया जाएगा। कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस जाब्ता भी यहां तैनात है। साथ ही माता के स्वर्ण आभूषणों की रक्षा के लिए भी आर्म्स गार्ड 24 घंटे मौजूद है।

मंदिर के बाहर श्रद्धालु।
मंदिर के बाहर श्रद्धालु।
खबरें और भी हैं...