पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोविड बचाव:बेगूं में चाैथे दिन भी सब्जी मंडी बंद बेनतीजा रही कलेक्टर से बातचीत

चित्तौड़गढ़11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
नगरपालिका कार्यालय में बैठक लेते कलेक्टर। - Dainik Bhaskar
नगरपालिका कार्यालय में बैठक लेते कलेक्टर।

कलेक्टर ताराचंद मीणा मंगलवार को बेगूं पहुंचे। नगरपालिका कार्यालय में सब्जी विक्रेताओं और व्यापारियों की बैठक ली। बैठक बेनतीजा रही। निर्णय के लिए सब्जी विक्रेताओं ने समय मांगा है। लगातार चौथे दिन मंगलवार को भी बेगूं की सब्जी मंडी बंद रही। कलेक्टर ने बेगूं नगरपालिका कार्यालय में कोविड बचाव और व्यवस्थाओं को लेकर बैठक ली। चेयरमैन रंजना लाड, उपाध्यक्ष प्रिंस बाबेल, नारायण लाड, तहसीलदार गोपाल बंजारा, नायब तहसीलदार लादूसिंह मौजूद रहे।

कलेक्टर ने सब्जी विक्रेताओं से कहा कि संक्रमण फैलने के खतरे को देखते पूर्व की भांति बड़े बालाजी दशहरा मैदान में सब्जी मंडी लगाने की व्यवस्था की जा रही है। कलेक्टर ने सब्जी विक्रेताओं की समस्याएं सुनी। पुलिस- प्रशासन, नगरपालिका को दशहरा मैदान में सब्जी विक्रेताओं के लिए पर्याप्त व्यवस्थाएं करने के निर्देश दिए। जिस पर सब्जी विक्रेताओं ने राय कर निर्णय का समय मांगा। व्यापारियों की ओर से कलेक्टर को भरोसा दिलाया कि वह 10 दिन के लिए स्वैच्छिक लाॅकडाउन के लिए तैयार हैं, ताकि संक्रमण को रोका जा सके। कलेक्टर ने एसडीएम ऑफिस पहुंचकर अधिकारियों की बैठक लेकर कोरोना रोकथाम को लेकर चर्चा की।

नए संक्रमित अब घर में नहीं कोविड केयर सेंटर में रहेंगे
कलेक्टर मीणा ने बेगूं में बढ़ रहे संक्रमण पर चिंता जताई। बेगूं खासा खेड़ा में नव निर्मित अस्पताल भवन का निरीक्षण किया। नए अस्पताल भवन को कोविड केयर सेंटर बनाया जाएगा। इसकी तैयारी के लिए चिकित्सा विभाग और नगरपालिका को निर्देश दिए। काटूंदा और बेगूं के कोविड सेंटर की कलेक्टर ने व्यवस्थाओं का जायजा लिया। पारसोली और बेगूं में दो और कोविड केयर सेंटर शुरू करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि अब बेगूं में मिलने वाले संक्रमित घर पर नहीं रहेंगे। उन्हें कोविड केयर सेंटर में रखा जाएगा ताकि परिवार में संक्रमण न फैले।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

    और पढ़ें