पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ट्वीट ने 12 घंटे में सही करवा दी टूटी सड़क:12 लाख रुपए की लागत से 7 दिन पहले बनी थी सड़क, गांव के युवक ने सहकारिता मंत्री आंजना को किया ट्वीट: यह घटिया सड़क बनाई है

चित्तौड़गढ़।22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
युवक ने सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना को किया ट्वीट। - Dainik Bhaskar
युवक ने सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना को किया ट्वीट।

ट्वीटर का ट्रेंड बन गांवों में भी शुरू हो गया है। चित्तौड़गढ़ जिले के एक छोटे से गांव से ऐसा ही मामला सामने आया है। यहां मिन्नाना से टाटरमाला गांव तक नई डामर सड़क बनाई गई थी। लेकिन यह सड़क बनाने के एक ही दिन बाद कुछ हिस्से से क्षतिग्रस्त हो गई। इस पर गांव के एक युवक ने सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना को ट्वीट कर दिया। इसके बाद उन्होंने PWD के अधिकारियों को तुरंत निरीक्षण करने के आदेश दिए, जिसके 12 घंटे बाद ही सड़क को सही कर दिया गया।

जानकारी के अनुसार निंबाहेड़ा उपखंड के मिन्नाना ग्राम पंचायत में 7 दिन पहले मिन्नाना से टाटामाला गांव तक करीब 12 लाख रुपए की लागत से 3.2 किलोमीटर नई सड़क बनाई गई थी। डामर सड़क अगले दिन ही टूट गई और इसका एक किनारे का हिस्सा पूरी तरह धंस गया। इस पर दोबारा डामर कर इसे लेवल में करने की कोशिश की लेकिन डामर सेट होने से पहले गाड़ियों का आना-जाना शुरू हो गया। जिससे यह दुबारा क्षतिग्रस्त हो गई।

एईएन पवन ने बताया कि सड़क के एक तरफ काली मिट्टी होने के कारण इस सड़क को पूरी तरह से खोदकर उसका बेस लेवल ठीक कर फिर डामर किया जाएगा। 100 मीटर के पोषण में यह सड़क धंस गई थी। इसके बाद माधवलाल नाम के एक ग्रामीण ने ट्विटर पर इसकी शिकायत की और साथ ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, सचिन पायलट, सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना, सांसद सीपी जोशी और विधायक चंद्रभान सिंह आक्या को टैग कर घटिया सड़क बनाने की बात कही। इस शिकायत पर सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना ने संज्ञान लेकर PWD के अधिकारियों को सड़क को फिर से ठीक करने का आर्डर दिया। उनको निर्देश दिया कि मौके पर निरीक्षण कर संबंधित ठेकेदार को पाबंद किया जाए।

मंत्री आंजना बोले: कोई भी खामी दिखे तो मुझे बताएं
मंत्री आंजना का निर्देश पाते ही सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारी मौका निरीक्षण करने हेतु दौड़ पड़े। सार्वजनिक निर्माण विभाग के एईन कैलाश आचार्य ने मौका निरीक्षण किया और गीली मिट्टी के कारण सड़क ही सही रोलिंग ना हो पाने एवं कुछ हिस्सों में डामर की कमी के कारण कुछ जगहों पर दब जाने वाली डामरीकृत सड़क का फिर से ठीक करने के आदेश ठेकेदार को दिए। ठेकेदार ने भी बारिश के कारण कुछ जगहों पर तकनीकी खामी रह जाने की बात को स्वीकार कर लिया और 12 घ्ंटे में ही काम शुरू कर दिया। मंत्री आंजना ने दुबारा रिप्लाई करते हुए कहा कि सामाजिक जिम्मेदारी निभाते रहे। भविष्य में यदि कोई खामी दिखे तो मुझे बताएं।

मंत्री आंजना ने पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों को भेज कर ठीक करवाया सड़क का काम।
मंत्री आंजना ने पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों को भेज कर ठीक करवाया सड़क का काम।
खबरें और भी हैं...