पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अच्छी पहल:महिलाओं ने बिना मास्क वालाें काे रोको और टोका, 200 मास्क वितरित किए

चित्तौड़गढ़8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पोस्टर का विमोचन करतीं नगर माहेश्वरी महिला संगठन की पदाधिकारी - Dainik Bhaskar
पोस्टर का विमोचन करतीं नगर माहेश्वरी महिला संगठन की पदाधिकारी
  • नगर माहेश्वरी महिला संगठन और माहेश्वरी सखी संगठन की सदस्याएं शहरवासियों को काेराेना संक्रमण से बचाने के लिए आगे आईं

नो मास्क-नो एंट्री केवल सरकारी कार्यालयों के लिए ही आवश्यक नहीं है बल्कि कोई भी निजी, व्यावसायिक संस्थान, दुकान, सार्वजनिक वाहन आदि में भी इस बात का ध्यान रखना होगा। यह विचार नगर माहेश्वरी महिला संगठन की नगर अध्यक्ष जया तोषनीवाल ने रोको-टोको तथा नो मास्क-नो एंट्री कार्यक्रम के अवसर पर कही। अर्चना मोदानी, शीला भराडिया, रतन काबरा, प्रीति ईनाणी, सुधा काबरा, सुमन बिड़ला, जयश्री नामधराणी, स्नेहलता लड्ढा, किरण भराडिया ने सेतु मार्ग स्थित दुकानों के मालिकों से आग्रह किया कि ग्राहकों को हाथ धुलवाकर, मास्क व सोशल डिस्टेंस के साथ ही दुकान में प्रवेश दें।

जिन्हाेंने मास्क नहीं पहने उनसे मास्क लगाने का आग्रह करें। दो गज की दूरी व मास्क है जरूरी, बिना मास्क प्रवेश नहीं, मेरा मास्क आपको बचाएगा और आपका मास्क मुझे बचाएगा। हम सब ने यह ठाना है कोरोना मुक्त देश बनाना है आदि नारे लगाकर जनजागृति का वातावरण तैयार किया गया। नगर सचिव सीमा काबरा ने बताया कि सभी सदस्यों ने 200 मास्क वितरित किए।

माहेश्वरी सखी संगठन ने कलेक्टर को मास्क और हैंड सेनेटाइजर मशीन भेंट की

नो मास्क-नो एंट्री अभियान के तहत माहेश्वरी सखी संगठन ने सहभागिता निभाई- संगठन अध्यक्ष माया समदानी ने बताया कि कलेक्टर केके शर्मा को कलेक्ट्रेट कार्यालय में मास्क व सेनेटाइजर मशीन भेंट की। संगठन सचिव सीमा भंडारी ने बताया कि जब तक दवा नहीं, तब तक ढिलाई नहीं, अभी मास्क ही उपचार है।

इस बात को ध्यान में रखते हुए 500मास्क कलेक्टर कार्यालय स्टाफ के लिए व हैंड सेनेटाइजर मशीन भेंट की। संगठन की सदस्याें ने सकारात्मक विचारों का वीडियो भी बनाया। इस प्रोजेक्ट में संरक्षक सुनीता भंडारी का सहयोग रहा।

खबरें और भी हैं...