अच्छी खबर:निंबली मांडा में बनेगा खेल मैदान, 200 मी. रनिंग ट्रैक, बास्केटबॉल कोर्ट व पैवेलियन भी

मारवाड़ जंक्शन / निंबली / मांडा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मारवाड़ जंक्शन. निंबली मांडा में बन रहा खेल मैदान। - Dainik Bhaskar
मारवाड़ जंक्शन. निंबली मांडा में बन रहा खेल मैदान।

ग्रामीण खेल प्रतिभाओं को निखारने के उद्देश्य से निंबली मांडा ग्राम पंचायत मुख्यालय पर राआउमावि निम्बली में खेल मैदानों का निर्माण करवाया जा रहा है। यहां रनिंग ट्रैक से लेकर बॉस्केटबॉल कोर्ट के साथ 500-600 दर्शकों के बैठने के लिए पैवेलियन बनेगा।

इसके साथ ही वहां लेट-बॉथ व पीने के पानी की व्यवस्था रहेगी। जिससे की ग्रामीण प्रतिभाओं को अपना खेल विकसित करने के लिए बेहतर प्लेटफॉर्म मिल सके। अक्सर देखा जाता हैं कि गांव में रनिंग ट्रैक नहीं होने के चलते सेना, पुलिस में जाने के इच्छुक युवा खेतों में तो कोई जंगल में उबड़-खाबड़ रास्तों पर दौड़ लगाते नजर आ जाता है तो कई गांवों में क्रिकेट ग्राउंड नहीं होने की स्थिति में खेत या गोचर भूमि पर युवा क्रिकेट खेलते नजर आ जाते हैं।

ऐसे युवाओं की प्रतिभा को विकसित करने एवं उन्हें बेहतर प्लेटफॉर्म उपलब्ध करवाने की मंशा से ग्राम पंचायतों में खेलो पाली प्रोजेक्ट के तहत ग्राम पंचायत स्तर पर बने सरकारी स्कूल मैदान में खेल मैदान कम स्टेडियम विकसित किए जा रहे हैं।

खेलो पाली से जिले की प्रतिभओं काे आगे बढ़ने का अवसर मिलेगा
“खेलो पाली’’ कार्यक्रम के तहत मनरेगा योजना से खेल मैदानों का निर्माण करवाया गया है। इससे क्षेत्र में खेल प्रतिभाओं को अवसर मिलेगा। खिलाडिय़ों को खेल मैदान एवं खेल सुविधाओं के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। बास्केटबॉल, रेसिंग ट्रैक, वॉलीबाल आदि खेल मैदान विकसित हो जाने से खेलों के प्रति माहौल अनुकूल रहेगा। खिलाडिय़ों का मनोबल भी बढ़ेगा। ग्रामीण प्रतिभाओं को बड़े स्तर पर जाने का मौका मिलेगा एवं नई प्रतिभा निखरेगी।
सम्पत कंवर, सरपंच, ग्राम पंचायत, निम्बली मांडा

खेल मैदान निर्मित होने से मारवाड़ क्षेत्र की ग्रामीण प्रतिभाएं निखरंेगी
योजना के तहत खेल मैदान निर्मित करवाकर सरकार अच्छा काम कर रही है। इससे ग्रामीण प्रतिभाएं निखरेंगी। इन मैदानों के निर्माण से खिलाडिय़ों के खेलने के लिए संसाधन उपलब्ध हो जाएंगे। सरकार द्वारा प्रतिभाओं को फायदा देने के लिए उत्कृष्ट खिलाड़ियों को नौकरियों में आरक्षण का प्रावधान भी है। खिलाडिय़ों के लिए पेंशन स्कीम भी शुरू की जा रही है। ग्रामीण प्रतिभाओं को मंच देने के लिए ग्रामीण ओलंपिक का आयोजन भी करवाया जाएगा।
सुमेरसिंह राठौड़, जिलाध्यक्ष राजस्थान शिक्षक संघ (सियाराम), शारीरिक शिक्षक

मैदान बनने से राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी यहां से निकलेंगे
किसी समय खेलों में निम्बली (मांडा) का नाम किसी के लिए अनसुना नहीं था। यहां से कई खेल प्रतिभाएं राष्ट्रीय व राज्य स्तर पर पहुंची है। खेल प्रतिभाओं में निखार लाने के लिए खेल मैदान और संसाधन जरूरी है। इनके अभाव में प्रतिभाओं को निखरने का अवसर ही नहीं मिल पाता है। खेल मैदानों के तैयार हो जाने से खिलाडिय़ों व खेलप्रेमियों को निराश नहीं होना पडेग़ा।
सुदर्शनसिंह कुम्पावत, राष्ट्रीय खिलाड़ी रग्बी, कुश्ती,जुडो

खो-खो का भी बनेगा मैदान
खेल मैदान में बास्केटबॉल कोर्ट, 200 मीटर रनिंग ट्रैक, वॉलीबाल मैदान निर्माण कार्य, पैवेलियन निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका है। जबकि कबड्डी,खो-खो,हैंडबाॅल,एथलेटिक्स मैदान के साथ बालक एवं बालिकाओं के लिए शौचालय अभी निर्माणाधीन है।

खबरें और भी हैं...