निवेश समिट कल:4 हजार करोड़ के निवेश के लिए 175 एमओयू संभावित

भीलवाड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शहर में उद्याेगाें के लिए कई तरह की समस्याएं हैं। इनमें पानी, बिजली व जमीन से जुड़े मुद्दे प्रमुख हैं। इनके समाधान के लिए भीलवाड़ा जिला प्रशासन डीअार्ईसी व रीकाे के साथ 15 दिसंबर काे हाेटल ग्लाेरिया इन में इन्वेस्टमेंट समिट करा रहा है। जाे भी िनवेशक एमअाेयू करें उन्हें विभागाें के चक्कर नहीं लगाने पड़े, यह समिट का मुख्य उद्देश्य है।

यह बात कलेक्टर शिवप्रसाद एम नकाते ने साेमवार काे कलक्ट्रेट में पत्रकार वार्ता में कही। उन्हाेंने उम्मीद जताई कि लगभग चार हजार कराेड़ रुपए निवेश के 175 एमअाेयू की संभावना है। इसमें कई निवेशक बाहरी हैं ताे कई स्थानीय, जाे अपने उद्याेगाें का विस्तार करना चाह रहे हैं। इधर, कलेक्टर नकाते ने समिट की तैयारियाें के िलए जिला उद्याेग केंद्र में वरिष्ठ अधिकारियों, पुलिस एवं उद्याेग संगठनाें के प्रतिनिधियों के साथ पूर्व तैयारियों को लेकर बैठक की। बैठक में सम्मिट के मिनट-टू-मिनट कार्यक्रम, बैठक व्यवस्था, सोशल डिस्टेंसिंग सहित अन्य महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा हुई।

समिति में इन तीन काम पर खास फाेकस

  • महंगी अाैद्याेगिक बिजली पर सरकार कुछ निर्णय लेगी। साैर ऊर्जा में सेस में कमी का प्रस्ताव भी है। साेलर लगाने की केपेसिटी भी बढ़ाई है।
  • चंबल का पानी अाने के बाद पेयजल की स्थिति में सुधार हुअा है। भीलवाड़ा काे डार्क जाेन से िनकालने के िलए िलखा है। साथ ही राज्य भू-जल बाेर्ड की िरपाेर्ट काे उद्याेगाें के िलए मान्य करने का सुझाव दिया है।
  • कई उद्याेग जमीन अाबंटन या अाैद्याेगिक भू-रूपांतरण की समस्या से जूझ रहे हैं। इसके िलए चार लाख वर्गमीटर तक भू-रूपांतरण का अधिकार जिला स्तर पर दिखाने का प्रस्ताव रखा है। जाे भी लंबित फाइलें थी उन्हें जयपुर भेज दिया है।

यह हाेगा समिट में

  • टेक्सटाइल क्षेत्र में करीब तीन हजार कराेड़ के एमअाेयू के प्रस्ताव अा चुके हैं। 25 उद्यमियाें ने बिजनेस समिट में टेक्नीकल टेक्सटाइल व रेडीमेड उद्याेग लगाने का प्रस्ताव दिया।
  • माइनिंग में सैंड स्टाेन व क्वार्ट्ज फेल्सपार में िनवेश के प्रपाेजल अाए हैं। यहां कच्चा माल उपलब्ध है इस लिहाज से बाहर के कुछ बड़े समूह इसमें भागीदारी िनभा रहे हैं।
  • एग्राे फूड प्राेसेसिंग में अच्छा िनवेश हाे रहा है। करीब साै कराेड़ रुपए का नया फूड पार्क अा रहा है।
  • अाजादनगर में मेडिसिटी के के लिए जमीन रिजर्व की है। इसमें मेडिकल व फार्मा कंपनियां अाएंगी।
खबरें और भी हैं...