5 किमी दूर तक दिखीं लपटें:जयपुर-काेटा हाईवे पर हनुमानगर के पास रात 8 बजे भभका ट्रक, घरों खेताें तक उड़े सिलेंडराें के परखच्चे

भीलवाड़ाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

टीकड़ गांव के पास मंगलवार रात आकाशीय बिजली गिरने से हाईवे पर चल रहा घरेलू गैस के 450 सिलेंडरों से भरा ट्रक पलट गया। ट्रक पलटते ही आग लग गई और सिलेंडर फटने लगे। आग इतनी भीषण थी कि लपटें 5-7 किलाेमीटर दूर तक दिखाई दीं। हनुमाननगर थाना पुलिस व फायर ब्रिगेड पहुंची, लेकिन सिलेंडरों में विस्फोट व आग विकराल हाेने से काेई भी ट्रक के पास जाने की हिम्मत नहीं जुटा पाया। मंगलवार रात गैस सिलेंडरों से भरा ट्रक नसीराबाद से कोटा के भवानीमंडी की तरफ जा रहा था।

टीकड़ मोड़ के समीप करीब 8 बजे आकाशीय बिजली गिरते ही धमाके के साथ ट्रक अनियंत्रित होकर पलट गया। इससे लपटें उठने लगीं और सिलेंडर फटने लगे। हादसे से हाईवे, टीकड़ समेत क्षेत्र के गांवाें में दहशत हो गई। विस्फोट के साथ सिलेंडर उछल-उछलकर आधा-पाैन किलाेमीटर दूर तक गिर रहे थे। फटे सिलेंडराें के टुकड़े सड़क पर दूर-दूर तक फैल गए। घरों की छताें, आंगन में भी टुकड़े गिरे। देवली नगर

पालिका के दमकल गैराज के दिनेश ने बताया कि घटनास्थल से करीब 150 मीटर दूर खड़े रह पाना भी मुश्किल हाे रहा था। दमकल भी नजदीक नहीं जा सकती। ट्रक ड्राइवर बिजेठा निवासी 35 वर्षीय सतराज मीणा ने किसी तरह भागकर जान बचाई। हालांकि उसकाएक हाथ व शरीर पर कई जगह झुलस गया।

आग के गोले में बदल गया ट्रक, ढाई घंटे बाद आग धीमी पड़ी

थानाधिकारी माेहम्मद इमरान ने बताया कि करीब ढाई घंटे बाद आग धीमी पड़ तब यातायात चालू करवाया। चालक सतराज ने देवली में रहने वाले परिजनों को सूचित किया जाे उसे अस्पताल ले गए। उसने बताया कि वह नसीराबाद से भारत गैस के 450 सिलेंडर ट्रक में भरकर भवानीमंडी के लिए रवाना हुआ था। रात करीब 8 बजे ट्रक पर आकाशीय बिजली गिरी। जोरदार धमाका हुआ और ट्रक आग के गाेले में बदल गया। सिलेंडर फटने की आवाज सुनकर एकबारगी इलाके में दहशत का माहौल हो गया, बाद में जैसे-जैसे लोगों को हादसे की जानकारी मिली मौके जमा होने लगे। आग इतनी भीषण थी कि बड़ी संख्या में मौजूद लोग उसे बुझाने का प्रयास भी नहीं कर सके।

खबरें और भी हैं...