पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अनदेखी:50 बार शिकायत फिर भी नहीं बन रही पार्क की दीवार, मोहल्लावासी लकड़ी बांधकर बचा रहे पौधे

भीलवाड़ा8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सेक्टर एक के पार्क में टूटे झूले व दरकती दीवारें - Dainik Bhaskar
सेक्टर एक के पार्क में टूटे झूले व दरकती दीवारें
  • आरसी व्यास कॉलोनी के पार्क में झूले टूटे, टाइल्स उखड़ी, पेड़ों को छू रहे तार, करंट की आशंका

आरसी व्यास कॉलोनी सेक्टर एक का पार्क पिछले कुछ महीनों से दुर्दशा का शिकार हो रहा है। पार्क की दीवारें कई जगह से टूट रही हैं। टाइल्स उखड़ गई है। झूले टूट रहे हैं। इसकी करीब 50 बार मोहल्ले वालों ने नगर विकास न्यास में शिकायत दी, लेकिन सुनवाई नहीं हो रही है।टूटी दीवारों के कारण मवेशी पेड़ पौधों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। उन से बचाने के लिए मोहल्ले वालों ने दीवारों व टूटे गेट पर बांस बांध रखे हैं।

पार्क में बिजली के खंभे लगे हैं, पर अधिकांश की लाइटें बंद है। यहां कार्यरत चौकीदार को भी पिछले करीब चार महीनों से पगार नहीं मिली। इसके चलते हुए भी अपने गांव चला गया है। मोहल्लेवासियों का कहना है कि पार्क की सफाई निजी सफाईकर्मी को पैसा देकर करवा रहे हैं। दुर्दशा के चलते कॉलोनी के इस पार्क में शाम के समय महिलाएं व बच्चे टहलने के लिए भी नहीं आ पा रहे हैं।

यहां से निकल रही विद्युत लाइन नीम की टहनियों को छू रही है। करंट की आशंका के चलते इसकी शिकायत मोहल्ले वालों ने सिक्योर वालों को की। वे मौके पर पहुंचे अाैर देखने के बाद कहा कि पार्क का काम हम नहीं करेंगे, यह नगर विकास न्यास का पार्क है तो काम भी उसी के द्वारा किया जाएगा।

पिछले दिनों लगाए थे पौधे, उनको बचाना हो रहा है मुश्किल : पार्क के पास मिले मोहल्ले के गिरधर, गंगाराम व रमेश आदि का कहना है कि पिछले दिनों मोहल्ले वालों ने पार्क में विभिन्न प्रजाति के पौधे लगाए। टूटी दीवारों के चलते पार्क में घुस रहे मवेशी उन्हें नुकसान पहुंचा रहे हैं। ऐसे में पौधों को बचाना मुश्किल हो रहा है। पाइप टूटने से पौधों को पानी पिलाना भी मुश्किल है। नगर विकास न्यास के अधिकारियों व क्षेत्रीय पार्षद के साथ ही ठेकेदार को बताया, लेकिन सुध नहीं ले रहा है। लोगों को पार्क में जमा फूल पत्तों की सड़ांध से परेशानी हो रही है।

सीवरेज खुदाई के दौरान घरेलू कनेक्शन टूटा

शहर में सीवरेज लाइन डालने के लिए की जा रही खुदाई के दौरान जलदाय विभाग की पाइप लाइन तोड़ दिए जाने से पेयजल आपूर्ति प्रभावित हो रही है। कई जगह गंदा पानी पहुंचने की शिकायत भी मिल रही हैं। बुधवार को दारू गोदाम के पीछे एक सर्विस लाइन कनेक्शन तोड़ दिया गया।

इसे न तो सीवरेज वालों ने रिपेयर किया और न ही इसकी जानकारी जलदाय विभाग को दी। ऐसे में गुरुवार को गड्ढे में भरा गंदा पानी पाइप लाइन से करीब 200 घरों में पहुंचने की संभावना बन गईं, लेकिन समय रहते इसका पता जलदाय विभाग को चलने से स्थिति संभाल ली गई। जलदाय विभाग वितरण के एईएन निरंजन सिंह आढा ने बताया कि

सीवरेज वालों ने दारू गोदाम के पीछे घरेलू कनेक्शन तोड़ दिया। उसे ठीक करने के बजाय ऐसे ही छोड़ दिया। इसकी जानकारी भी नहीं दी। टूटे कनेक्शन के पास गड्ढे में नाली का पानी भरा है, जो अगले दिन जलापूर्ति के दौरान पाइप लाइन के जरिए करीब 200 घरों की आपूर्ति प्रभावित कर सकता है।

खबरें और भी हैं...