पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना वैक्सीनेशन:तीन दिन में 79.39% हेल्थ वर्कर्स ने लगवाई वैक्सीन डरें नहीं, आगे आएं दवा सुरक्षित है

भीलवाड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले में 1839 हेल्थ वर्कर्स टीका लगवाने को पंजीकृत थे, इनमें 1460 ने लगवाया

जिले में गत तीन दिनाें में 1839 हेल्थ वर्कर्स काेराेना वैक्सीन लगवाने के लिए पंजीकृत हुए थे, जिसमें 1460 ने वैक्सीन लगवाई हैं। तीन दिनाें की बात करें ताे 79.39 प्रतिशत हेल्थ वर्कर्स ने काेराेना वैक्सीन लगवाई है। इसमें अच्छी बात यह है कि इनमें से किसी को भी टीके से गंभीर रिएक्शन नहीं हुआ है।

मतलब यह कि हमारा टीका सबसे सुरक्षित है। एक्सपर्ट के अनुसार ऐसे में अब हेल्थ वर्कर्स को घबराहट या डर छोड़कर टीका लगवाने आगे आना चाहिए। जिले में 18 हजार से अधिक हेल्थ वर्कर्स पंजीकृत हैं जिनकाे यह वैक्सीन लगाई जाएगी। वैक्सीन लेने के लिए अब जयपुर नहीं जाना पड़ेगा। अजमेर से आएगी। शुक्रवार काे अजमेर से साढ़े 21 हजार डाेज आने की संभावनाएं है। आरसीएचओ डाॅ. संजीव शर्मा ने बताया कि कुछ हेल्थ वर्कर्स बाहर हाेने की वजह से वैक्सीन नहीं लगा पाए। वहीं आशा सहयाेगनियां भी इसमें पंजीकृत हैं जाे हड़ताल के चलते वैक्सीन के लिए नहीं पहुंच रही। डाॅ. शर्मा ने बताया कि शुक्रवार काे जिले में 6 स्थानाें पर 600 हेल्थ वर्कर्स काे वैक्सीन लगेगी। इसमें जाे हेल्थ वर्कर्स नहीं आते ताे आगे के पंजीकृत हेल्थ वर्कर्स काे सूचित करें, जिससे संख्या बढ़ जाएगी। रायपुर के स्थान पर काेशीथल में वैक्सीनेशन किया जाएगा।

यदि आपको कोरोना हुआ है ताे ठीक होने के चार से छह सप्ताह के बाद ही टीका लगवाएं

सवाल: टीका लगवाने से पहले क्या एहतियात बरतने जरूरी हैं?
जवाब: वैसे तो कोई खास एहतियात की जरूरत नहीं। नाश्ता या खाना खाकर वैक्सीन लगवानी है। कोरोना हुआ है ताे ठीक होने के चार से छह हफ्ते बाद ही टीका लगवाएं। बुखार, खांसी, नजला हो तो उस दिन टीका न लगवाएं। यदि किसी बीमारी की पहले से दवा ले रहे हैं, तो उसे लेकर जा सकते हैं। टीका लगवाने के लिए कोई रोक-टोक नहीं होती।
सवाल: टीका लगने के समय और बाद में क्या करना चाहिए?
जवाब: टीका लगने के बाद टीकाकरण केंद्र पर आधे घंटे इंतजार जरूर करें। क्योंकि कुछ लोगों में टीका लगने के बाद एलर्जी होती है। वैसे यह आम है, एलर्जी होनी है तो आधे घंटे में हो जाएगी। एक से दो दिन बाद बुखार, सूई लगने की जगह पर लाली या दर्द हो सकता है, लेकिन यह अपने-आप एक से दो दिन में ठीक हो जाता है। परेशान नहीं हों।
सवाल: टीके कितने प्रभावी हैं, क्या लगवाना जरूरी है?
जवाब: टीका लगवाने से परहेज न करें। क्योंकि एनिमल ट्रायल से लेकर ह्यमून ट्रायल तक में यह साबित हो चुके हैं। इससे कोई गंभीर साइड इफेक्ट्स भी नहीं हैं। दुनिया में करोड़ाें लोगों को टीका लग चुका है। कहीं से भी टीके के कारण गंभीर साइड इफेक्ट्स की जानकारी नहीं है। वैक्सीन ही एक रास्ता है, इसी से वायरस की कड़ी टूटेगी।
सवाल: किस तरह के साइड इफेक्ट्स मामूली हैं?
जवाब: टीका लगाने के बाद मामूली दर्द, चक्कर, पसीना, भारीपन, लाल चकत्ते, सूजन, हल्का बुखार, जो आम बात है। ध्यान रखें, पहली डोज के 28 दिन बाद दूसरी लगेगी। इसके दो हफ्ते बाद एंटीबॉडी विकसित होती है। मास्क पहनें, सोशल डिस्टेंसिंग, हाथ धोना न भूलें। शुगर ड्रिंक्स, प्रोसेस्ड फूड, फास्ट फूड या एल्कोहॉलिक पदार्थों से बचें, ये इम्यून सिस्टम को प्रभावित करते हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें