फर्जी लूट की वारदात का खुलासा:माल सप्लाई करने के बाद 4 लाख रूपए की बता दी थी लूट, पुलिस ने 4 को पकड़ा

भीलवाड़ा7 दिन पहले
पुलिस ने चार लोगों को किया गिरफ्तार।

भीलवाड़ा में पिछले दिनों एक लोहा सप्लाई फर्म के कर्मचारी के साथ लूट के मामले में पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस ने इस संबंध में फर्म के पिकअप ड्राइवर सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया है। फर्म के कर्मचारी पिकअप ड्राइवर व उसके साथियों ने मिलकर लूट की झूठी कहानी बनाई थी। पुलिस ने आरोपियों से फर्म की गबन राशि भी बरामद कर ली है।

सदर थाना प्रभारी जगदीश प्रसाद ने बताया कि मांडल निवासी इनायत हुसैन पुत्र अब्दुल रज्जाक अंसारी ने थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। उन्होंने रिपोर्ट में बताया था कि उनकी हजारी खेड़ा में तुराब इंफ्रा प्रोजेक्ट प्राइवेट लिमिटेड नाम से फर्म है। उन्होंने अपने पिकअप ड्राइवर के साथ चार लाख 12 हजार की लोहे की चद्दर कोटा भेजा था। वहां से पीकअप चालक राजेश शर्मा पूरा पेमेंट लेकर आ रहा था।

इस दौरान कोटड़ी चौराहे के पास कुछ बदमाशों ने उसके साथ लूट करते हुए पूरे पैसे ले गए। पुलिस ने जब इस मामले की जांच की तो यह लूट का पूरा मामला ही फर्जी पाया गया। जिसके बाद पुलिस ने ड्राइवर आसींद निवासी राजेश कुमार पुत्र दयाराम शर्मा को हिरासत में लेकर पूछताछ की जिस पर उसने अपने साथियों के साथ मिलकर इस लूट की कहानी के बारे में बताया। पुलिस ने इस मामले में राजेश के साथी मंगरोप जित्याखेड़ी निवासी भवानी सिंह पुत्र शंभु सिंह, बलवीर सिंह पुत्र ओंकार सिंह व सुवाणा निवासी कन्हैयालाल पुत्र उदयलाल जाट को गिरफ्तार कर लिया है। इन सभी से फर्म की गबन की गई राशि 3 लाख 62 हजार 930 रुपए बरामद कर लिए हैं। घटना में प्रयुक्त बाइक भी बरामद कर ली है। पुलिस चारों आरोपियों से बची हुई राशि के बारे में पूछताछ कर रही है।

खबरें और भी हैं...